म्यांमार ने मिजोरम प्रशासन से उन आठ पुलिसकर्मियों को वापस भेजने का अनुरोध किया है जो पिछले महीने पड़ोसी देश में सैन्य तख्तापलट के बाद शरण लेने के लिए पूर्वोत्तर राज्य में आ गए थे। एक अधिकारी ने यहां यह जानकारी दी।

म्यांमार के साथ मिजोरम की 510 किलोमीटर लंबी सीमा है। म्यांमार में सशस्त्र बलों द्वारा एक साल के लिए आपातकाल की घोषणा के विरोध में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हो रहे हैं। चंपाई की जिला उपायुक्त मारिया सी टी जुआली ने कहा कि म्यांमार के फलाम जिले में उनके समकक्ष ने आठ पुलिसकर्मियों को सौंपने की मांग की है जो भारत आ गए हैं।

जुआली ने शनिवार को पीटीआई-भाषा से कहा कि मुझे म्यांमार के फलाम जिले के उपायुक्त का एक पत्र मिला है। इसमें मित्रतापूर्ण सद्भाव के तौर पर आठ पुलिसकर्मियों को हिरासत में लेने तथा म्यांमार को सौंपने का अनुरोध किया गया है। उस पत्र की एक प्रति पीटीआई के पास उपलब्ध है।

पत्र में कहा गया है कि म्यांमार के आठ पुलिसकर्मी भारत चले गए हैं। इससे पहले राज्य के गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को कहा था कि म्यांमार में सैन्य तख्तापलट की घटना के बाद से वहां के 16 नागरिकों ने भारतीय सीमा पार कर मिजोरम में शरण ली है।