दक्षिण मिजोरम के लवंगतलाई में चकमा स्वायत्त जिला परिषद (सीएडीसी) को लगभग एक महीने के राजनीतिक गतिरोध के बाद नया मुख्य कार्यकारी सदस्य मिला। अधिकारियों ने कहा कि बुद्ध लीला चकमा, जिन्होंने पिछले महीने परिषद के अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने सीईएम के रूप में शपथ ली।

ये भी पढ़ेंः लंदन की एक डॉक्टर की सोशल मीडिया पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर ठगे 60 लाख, साइबर टीम के हत्थे चढ़ा आरोपी


लवंगतलाई के उपायुक्त अमोल श्रीवास्तव ने चकमा को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। उन्होंने कहा कि बुद्ध लीला चकमा मौजूदा रसिक मोहन चकमा की जगह लेंगे, जिन्हें नौ मई को आयोजित पहले परिषद बजट सत्र के दौरान अविश्वास प्रस्ताव में बाहर कर दिया गया था। 

ये भी पढ़ेंः मिजोरम पीसीसी का बड़ा एक्शन, डीएसी करेगी मारा समिति के जवाबों का निपटारा


अधिकारियों ने बुद्ध लीला चकमा के हवाले से कहा, सभी 20 परिषद सदस्य चकमा क्षेत्र के विकास के लिए एकजुट होकर काम करेंगे। उन्होंने कहा, कार्यकारी समिति किसी भी समय रचनात्मक आलोचना और सुधारात्मक उपायों के लिए सुझावों का स्वागत करने के लिए खुली रहेगी। मई 2018 में भाजपा के शांति जीवन चकमा के पहले सीईएम के रूप में शपथ लेने के बाद से सीएडीसी में कम से कम पांच सरकारें गिरा दी गई हैं।