राज्यसभा सांसद के. वनलालवेना ने केंद्र सरकार से मिजोरम में भारत-म्यांमार सीमा पर व्यापार केंद्र को फिर से खोलने का आग्रह किया है। उनका कहना है कि अवैध व्यापार को नियंत्रित करने और पहले की तरह सीमा व्यापार को सामान्य बनाने के लिए उस व्यापार केंद्र को पुनर्जीवित करने की आवश्यकता है।

मिजोरम राज्यसभा सांसद वनलालवेना ने बुधवार को एक बयान में कहा कि उन्होंने भारत-म्यांमार सीमा पर चंपई जिले के उपनगर जोकावतार में सीमा व्यापार केंद्र को फिर से खोलने का आग्रह किया है। उन्होंने इस बावत भारत सरकार से अनुरोध करते हुए संसद के बजट सत्र के शून्यकाल के दौरान कहा कि कोविड-19 के प्रकोप के कारण पिछले साल अप्रैल से जोकावतार में भारत-म्यांमार सीमा व्यापार केंद्र को बंद कर दिया गया था। 

इससे स्वार्थी तत्वों, अवसरवादियों का एक वर्ग मिजोरम सरकार से  छिप-छिपाकर और बिना कोई कर चुकाए अस्थायी मार्गों से सात स्थानों पर अवैध सामानों की तस्करी कर रहा है। उन्होंने आशंका जताई कि भविष्य में इन मार्गों का उपयोग तस्करी गतिविधियों को और आगे ले जाने के लिए किया जाएगा। इसलिए इस पर अंकुश जरूरी है।

इस संबंध में उन्होंने केंद्र सरकार से आग्रह किया कि अवैध व्यापार को नियंत्रित करने और सीमा व्यापार को सामान्य करने की दृष्टि से जोकावतार में सीमा व्यापार फिर से शुरू करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएं।