मिजोरम में एक व्यक्ति से साइकिल से ही आइजोल से कोलकात पहुंचकर रिकॉर्ड बना दिया है। सी लालवमपुइया मिजोरम के पहले व्यक्ति बन गए हैं, जिन्होंने साइकिल से 1500 किमी की दूरी तय की है। सी लालवमपुइया 26 जनवरी को यहां अपने घर से निकले थे और मिजोरम, मेघालय, असम और पश्चिम बंगाल के 14 शहरों से होते हुए पूर्वी महानगर पहुंचे थे। आपको बता दें कि इससे पहले कोलकाता के 55 साल के व्यक्ति ने साइकिल से 1500 किलोमीटर का सफर तय किया था। 

आपको बता दें कि लालवमपुइया आइजोल शहर में एक व्यवसायी हैं और वे तीन बच्चों के पिता हैं। उन्होंने कहा कि मेरा मकसद मिजो युवाओं और मध्यम आयु वर्ग के पुरुषों में साइकिल चलाने और शारीरिक स्वास्थ्य में रुचि लेने के लिए प्रेरित करना था। मैं उन्हें दिखाना चाहता था कि लंबी दूरी साइकलिंग सिर्फ विदेशी या गैर आदिवासी ही नहीं बल्कि मिजो आदिवासी भी ऐसा कर सकते हैं, अगर वे खेल और रोमांच के रूप में साइकिल चलाना पसंत करते हों। 

 लालवम्पुइया, जो 1959 में अपने दिवंगत पिता द्वारा शुरू किया गया एक वॉच शोरूम चलाते हैं और 2016 में व्यायाम के रूप में साइकिल चलाना शुरू किया। उन्होंने कहा कि वह यह भी दिखाना चाहते हैं कि अगर उनकी उम्र के लोग शराब से दूर रहते हैं तो वे ऊर्जावान रह सकते हैं। लालावमपुइया ने पिछले साल नवंबर में लंबी साइकिलिंग अभियान के लिए अपनी आवश्यकताओं को इक_ा करना शुरू कर दिया था और कोलकाता को अपने गंतव्य के रूप में चुना क्योंकि मिजो का लंबे समय से शहर के साथ भावनात्मक जुड़ाव रहा है। वह 26 जनवरी को आइजोल के दावरपुई इलाके में अपने घर से निकला थे और पूर्वी महानगर में अपने गंतव्य पर लगभग 1575.42 किलोमीटर की दूरी तय कर पहुंचे।