वेसू स्थित सुमन आनंद आवास के एक फ्लैट से मंगलवार को संदिग्ध हालात में मिजोरम की एक युवती का शव बरामद हुआ हैं। शव बुरी तरह से सड़ चुका है। पुलिस ने फिलहाल एक्सीडेंटल डेथ का मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए न्यू सिविल अस्पताल भिजवा दिया है। पुलिस उप निरीक्षक पराग डावरा ने बताया कि मृतका की शिनाख्त आशा सारकी के रूप में की गई है। वह मिजोरम की रहने वाली थी और पिछले करीब पांच वर्षो से सुमन आनंद आवास के फ्लैट नम्बर ई 503 में रहती थी। रविवार को मिजोरम में रहने वाली उसकी माता से उसकी बात हुई थी। उसके बाद से उसका कोई संपर्क नहीं हुआ। उसका फोन भी बंद हो गया।

इस पर उसकी माता ने उसके एक परिचित से संपर्क कर उसे मंगलवार को उसे फ्लैट पर भेजा। फ्लैट का दरवाजा अंदर से बंद था। उसने कई बार दरवाजा खटखटाया, लेकिन नहीं खुला। उसने सोसायटी के लोगों को एकत्र किया। फ्लैट से दुर्गन्ध भी महसूस हो रही थी। इस पर लोगों ने पुलिस को खबर की। पुलिस दमकल के साथ मौके पर पहुंची। दमकलकर्मियों ने फ्लैट का दरवाजा तोड़ दिया। तेज दुर्गन्ध के बीच अंदर बैडरूम में बिस्तर पर शव मिला। पुलिस ने मौके पर फोरेन्सिक जांच करवा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया हैं। पुलिस ने बताया कि आसपास के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि उसके यहां बहुत ही कम लोगों का आना जाता था और वह घर पर अकेली ही रहती थी।

पुलिस ने बताया कि फ्लैट से शराब की बोतलें भी मिली है। लोगों से पूछताछ में पता चला है कि वह बीमार रहती थी। उसे क्या बीमारी थी, इस बारे में तो नहीं चला हैं लेकिन अक्सर बीमार होने के कारण घर में रहती थी। जिस तरह से बिस्तर पर शव मिला हैं उससे लगता हैं कि किसी गंभीर बीमारी की वजह से उसकी मौत हो सकती हैं। हालांकि मौत का कारण तो पोस्टमॉर्टम के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा। लोगों से पूछताछ में पुलिस को पता चला कि वह पांच साल से रहती थी। फ्लैट उसी के नाम पर हैं। पूर्व में वह स्पा और सलून में काम करती थी, लेकिन कोरोना शुरू होने के बाद से काम पर नहीं जाती थी। कहीं आती जाती नहीं थी, घर में ही रहती थी।