पूर्वोत्तर राज्यों असम और मिजोरम के बीच विवाद एकबार फिर ताजा हो गया है। मिजोरम ने बीती रात असम पुलिस पर फायरिंग का आरोप लगाया है। मिजोरम की तरफ से लगाए गए आरोप में कहा गया है कि मंगलवार देर रात एक बजे बिलाईपुर में असम पुलिस की तरफ से फायरिंग की गई जिसमें एक आम नागरिक घायल हो गया।

मिजोरम के आरोप का जवाब देते हुए असम ने दावा किया कि सीमा के दूसरी ओर से बदमाशों द्वारा उन पर गोलियां बरसाने के बाद ही पुलिस कर्मियों ने गोलियां चलाईं। बता दें कि असम-मिजोरम सीमा पर तीन हफ्ते पहले हिंसक झड़पों में असम के छह पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। मंगलवार को एक कथित गोलीबारी की घटना को लेकर विवादित अंतर-राज्यीय सीमा पर तनाव फिर से बढ़ गया है।

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक मिजोरम के कोलासिब जिले के उपायुक्त एच लालथलांगलियाना ने कहा कि घटना सुबह करीब 1 बजे असम के हैलाकांडी जिले की सीमा से लगे विवादित एतलांग इलाके में हुई, जब वैरेंगटे शहर के तीन निवासी असम के बिलाईपुर निवासी एक दोस्त से मीट लेने गए थे। उसे उसके दोस्त ने बुलाया था। इस दौरान अंतर-राज्यीय सीमा की सुरक्षा में तैनात असम पुलिस कर्मियों द्वारा फायरिंग की गई जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया।“

हैलाकांडी के पुलिस अधीक्षक गौरव उपाध्याय ने घटना का विवरण साझा करने से इनकार करते हुए पुष्टि की कि गोलीबारी हुई थी लेकिन दोनों पक्षों में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। हालांकि जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मजदूर मनरेगा योजना के तहत बिलाईपुर से सीमा की ओर जाने वाली सड़क का निर्माण कर रहे थे, इस दौरान मिजोरम की ओर से बदमाशों ने दारसिंग हिल्स की चोटी से गोलियां चलाईं। जवाब में असम पुलिस की तरफ से भी फायरिंग की गई।