कोरोना संक्रमण के बीच मिजोरम से दिल को सुकून देने वाली एक खबर आई है। दरअसल यहां एक अनजान शख्स ने चार लोगों का बैंक लोन चुका दिया, जिसके घर गिरवी रखे थे और वे अपना लोन चुकाने में असमर्थ थे। हालांकि मदद करने वाले व्यक्ति ने अपनी पहचान को जाहिर नहीं किया। उसने तकरीबन 10 लाख रुपये का लोन खुद उतारा। 

मामला मिजोरम की राजधानी आइजोल का है। इस शख्स ने खासतौर कहा कि उसकी पहचान सामने नहीं आना चाहिए। एसबीआई, आइजोल के कुछ कर्मचारी ही इस व्यक्ति को जानते हैं जिसने 4 अनजान लोगों की लोन उतार उनकी मदद की। शख्स ने कुल मिलाकर 9,96,365 रुपये का लोन उतारा। इनमें से तीन महिलाएं हैं। ब्रांच अस्सिटेंट जनरल मैनेजर ने बताया, ब्रांच में से तीन लोग ही उस शख्स को जानते हैं। उसने हमें बताया कि वो कुछ लोगों की मदद करना चाहता हैं। यहां तक कि उसने अपना बजट 10 लाख बताया। वो उन लोगों की मदद करना चाहते जो कोरोना के दौर में अपना लोन नहीं चुका पा रहे थे। खासतौर पर जिनकी प्रोपर्टी लोन के लिए गिरवी रखी है।

फिर बैंक के लोगों ने मिलकर चार ऐसे लोगों को सेलेक्ट किया, जो लोन नहीं चुका पा रहे थे। साथ में जिनकी प्रोपर्टी भी बैंक के पास गिरवी रखी थी। अगले दिन चारों को बुलाया गया। उन्हें बताया गया कि किसी अनजान शख्स ने उनका लोन चुका दिया है। जिस शख्स ने यह नेक काम किया, उसने पहले ही बैंक वालों से कहा था कि वो ये सब लोगों के लिए कर रहे हैं… बस उनका नाम सामने ना आए। लिहाजा, उन्हें उनका नाम भी नहीं बताया गया। बैंक के कर्मचारियों ने मीडिया को बताया कि वो इससे पहले भी काफी लोगों की मदद कर चुके हैं।