भारत के जेरेमी लालरिननुंगा ने राष्ट्रमंडल खेलों की भारोत्तोलन प्रतियोगिता के 67 किलोग्राम भारवर्ग में नए गेम्स रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीत लिया। जेरेमी लालरिननुंगा ने स्नैच में अपने दूसरे प्रयास में 140 किलोग्राम उठाया। उन्होंने क्लीन एंड जर्क में अपने दूसरे प्रयास में 160 किलो वजन उठाकर कुल 300 किलोग्राम का नया गेम्स रिकॉर्ड बनाया। 

ये भी पढ़ेंः ईसाई बहुल मिजोरम और नागालैंड में शराबबंदी का असर, ये राज्य रहा सफल


जेरेमी लालरिननुंगा ने स्नैच में भी नया गेम्स रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने पहले प्रयास में 136 किलो वजन उठाया। उनका दूसरा सफल प्रयास 140 किलो था। उन्होंने तीसरे प्रयास में 143 किलो वजन उठाने की कोशिश की, लेकिन विफल रहे। उन्हें 10 किलो की बढ़त मिल चुकी थी। क्लीन एंड जर्क में उनका पहला प्रयास 154 और दूसरा 160 किलो था। जेरेमी का 165 किलो का तीसरा प्रयास विफल रहा, लेकिन तब तक स्वर्ण उनकी झोली में आ चुका था। 

ये भी पढ़ेंः असम राइफल्स ने एक करोड़ रुपये से अधिक की विदेशी मूल की सिगरेट बरामद की


मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन में भारत को खेलों का पहला स्वर्ण दिलाया था। सामोआ के विपावा नेवो इयोन (127 और 166) को रजत तथा नाइजीरिया के एडीडीओंग जोसफ उमॉफिया (130 और 160) को कांस्य पदक मिला। जेरेमी ने जीत के बाद कहा, मैं स्वर्ण पदक जीतकर खुश हूं, लेकिन अपने प्रदर्शन से संतुष्ट नहीं हूं। मैं बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहा था, लेकिन देश के लिए स्वर्ण जीतना गर्व का क्षण है।