भाजपा ने मिजोरम के एक मंत्री के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के कथित उल्लंघन को लेकर शिकायत दर्ज कराई। दक्षिण मिजोरम के सियाहा जिले में मारा लोगों के लिए 25 सदस्यीय परिषद में 5 मई को मतदान होगा। भाजपा के सूत्रों ने कहा कि पार्टी ने एमएडीसी क्षेत्रों के थेवा गांव में एमएनएफ पार्टी के कार्यकर्ताओं को कथित तौर पर चावल के बोरे बांटने के मामले में राज्य के आपूर्ति मंत्री के. लालरिनलियाना के खिलाफ जिला चुनाव अधिकारी के पास शिकायत दर्ज कराई है।

ये भी पढ़ेंः देश की अर्थव्यवस्था में पूर्वोत्तर का बहुत बड़ा योगदान हो सकता है: Mizoram CM Zoramthanga


सूत्रों ने दावा किया कि चावल की बोरियों को एक मिनी ट्रक से पड़ोसी गांव टीपा से ले जाया गया। सियाहा जिला इकाई ने अपनी शिकायत में कहा कि मंत्री ने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है और उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहि। सियाहा के डिप्टी कमिश्नर लालसांगलियाना, जो रिटर्निंग ऑफिसर हैं। उन्होंने सियाहा जिले के मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के उपाध्यक्ष को आदर्श आचार संहिता के कथित उल्लंघन पर कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

ये भी पढ़ेंः सोशल एक्टिविस्ट ने सुपारी की तस्करी के खिलाफ हाईकोर्ट में जनहित याचिका की दायर


पार्टी ने इससे पहले खेल मंत्री रॉबर्ट रोमाविया रॉयटे के बेटे के खिलाफ चुनावी एमएडीसी के भीतर एक गांव में खेल के मैदान के निर्माण के लिए कथित तौर पर 10 लाख रुपये देने के लिए शिकायत दर्ज की थी। इस बीच भाजपा के राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति मोर्चा, मिजोरम के प्रभारी सचिव उतरा देबबर्मा ने कहा कि पार्टी के पास 2023 में होने वाले अगले विधानसभा चुनावों में राज्य विधानसभा में अपने सदस्यों की संख्या 1 से बढ़ाकर 30 करने का मौका है। आइजोल में एक सभा को संबोधित करते हुए देबबर्मा ने दावा किया कि यह धारणा गलत और निराधार है कि यह ईसाई विरोधी है। देबबर्मा ने यह भी आरोप लगाया कि मिजोरम सरकार राज्य में कई केंद्रीय योजनाओं को लागू नहीं कर रही है। बता दें कि  एमएडीसी चुनाव के लिए मतगणना नौ मई को होगी। परिषद चुनाव के लिए कम से कम 106 पीठासीन अधिकारी और 106 मतदान अधिकारी तैनात किए गए हैं। 21,969 महिला मतदाताओं सहित कुल 42,342 मतदाता 85 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। 25 सदस्यीय परिषद में भाजपा के पास अब 17 सदस्य हैं। वहीं एमएनएफ के पास 6 और कांग्रेस 2 सदस्य हैं। राज्य में रहने वाले मारा लोगों के लिए 1972 में MADC का गठन किया गया था।