कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण का पता लगाने के लिए पिछले 24 घंटे के दौरान देशभर में साढ़े 11 लाख से अधिक कोरोना टेस्ट किए गए। केंद्रीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने बुधवार को यह जानकारी दी कि पिछले 24 घंटे के दौरान देशभर के 1,678 कोरोना टेस्ट लैब ने 11,54,549 नमूनों की जांच की। इस तरह अब तक कुल 5,18,04,677 कोरोना टेस्ट हो चुके हैं। 

अब तक तीन बार कोरोना टेस्ट का दैनिक आंकड़ा साढ़े 11 लाख को पार हुआ है। इससे पहले तीन सितंबर को 11,72,179 और चार सितंबर को 11,69,765 कोरोना टेस्ट हुए थे। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने आज कहा कि कोरोना टेस्ट लैब की संख्या बढऩे और कोरोना टेस्ट की प्रक्रिया को आसान करने से कोरोना प्रबंधन प्रभावी तरीके से संभव हो पाया है। देश में फिलहाल प्रति दस लाख आबादी 37,539 कोरोना टेस्ट हो रहे हैं।

उधर, देशभर में कोरोना वायरस (कोविड-19) की जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की संख्या बढकऱ 1,678 हो गयी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण की जांच करने वाली प्रयोगशालाओं की सूची में 10 नाम और जुड़ गये हैं। इनमें सरकारी 1,040 और निजी प्रयोगशालाएं 638 हैं। इस समय आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 854 (सरकारी- 469, निजी- 385 हैं जबकि ट्रूनेट आधारित परीक्षण प्रयोगशालाओं की संख्या 703 (सरकारी: 537, निजी: 166) और सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं 121 (सरकारी: 34, निजी: 87) हैं। 

इन 1,678 प्रयोगशालाओं ने 08 सितंबर को 11,54,549 नमूनों की जांच की। इस तरह अब तक कुल साढ़े चार करोड़ से अधिक 5,18,04,677 नमूनों की जांच की जा चुकी है। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 89,706 नये मामले सामने आने से अब तक संक्रमण के शिकार हुए व्यक्तियों की संख्या बढकऱ 43,70,128 हो गयी है हालांकि, 08 सितंबर को रिकॉर्ड 74,894 संक्रमितों के रोगमुक्त होने और 1,115 मरीजों की मौत से संक्रमण के सक्रिय मामलों में 13,697 की ही तेजी दर्ज की गयी है। देश भर में इस समय कोरोना संक्रमण के 8,97,394 सक्रिय मामले हैं। उल्लेखनीय है कि देश में 23 जनवरी तक केवल पुणे की एक प्रयोगशाला में कोरोना वायरस जांच की सुविधा थी जो 23 मार्च को बढकऱ 160 हो गयी और अब देशभर की 1,678 प्रयोगशालाएं कोरोना वायरस संक्रमण की जांच करने में जुटी हैं।