म्यांमार में तख्तापलट के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर माहौल गरमा गया है। अधिकारियों और रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के अनुसार, देश में जारी उथल-पुथल के बीच लोगों ने भारत की सीमाओं के जरिए भारत में प्रवेश करना शुरू कर दिया है। कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार, म्यांमार के नागरिक सीमापार कर मिजोरम पहुंचे हैं। जानकारी मिली है कि कुछ पुलिसकर्मियों ने सैन्य तख्तापलट के खिलाफ जारी प्रदर्शन के खिलाफ हिंसक कार्रवाई में शामिल होने से मना कर दिया है। बीती एक फरवरी से म्यांमार में सेना शासन कर रही है।

संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि बीते बुधवार को कम से कम 38 लोग मारे गए हैं। इसी दौरान खबरें हैं कि म्यांमार में हिंसा भड़कने के बाद लोग बॉर्डर के जरिए भारत में दाखिल हो गए हैं। वहीं, भारतीय पुलिस ने जानकारी दी है कि ठीक उसी दिन 9 लोग 1600 किमी की सीमा को पार कर मिजोरम में दाखिल हुए हैं। इनमें से तीन पुलिसकर्मी प्रदर्शनों के खिलाफ कार्रवाई में शामिल होने से इनकार कर रहे हैं।

एक रिपोर्ट बताती है कि बुधवार से लेकर अब तक कम से कम 20 लोग सीमा पार कर चुके हैं। इस रिपोर्ट में स्थानीय लोगों के हवाले से लिखा गया है कि चंपाई और सर्चिप जिलों में ऐसे कम से कम 50 लोग मौजूद हैं। स्थानीय पुलिस प्रमुख कुमार अभिषेक ने कहा 'उनकी पहचान और म्यांमार से भागने के कारण को राज्य के गृह विभाग तक पहुंचा दिया गया है।'