असम और मिजोरम की सीमा (Assam-Mizoram border) के पास हैलाकांडी जिले में एक पुलिस चौकी के समीप हुए विस्फोट व इसमें मिजोरम के एक पुलिसकर्मी की कथित संलिप्तता को लेकर उसकी गिरफ्तारी के बाद दोनों राज्यों के बीच फिर से तनाव बढ़ गया है। यह जानकारी शनिवार को एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी।

हैलाकांडी के पुलिस अधीक्षक गौरव उपाध्याय ने बताया कि शुक्रवार की रात डेढ़ बजे के करीब बाइचेरा के नजदीक ‘‘कम तीव्रता वाला विस्फोट’’ हुआ।

पूर्वोत्तर (north east) के दोनों पड़ोसी राज्यों के बीच करीब तीन महीने पहले कछार जिले में एक विवादित क्षेत्र को लेकर हुए संघर्ष के बाद यह घटना हुई है। उस वक्त संघर्ष में असम पुलिस के छह कर्मियों सहित सात लोगों की मौत हो गई थी।

हैलाकांडी के पुलिस अधीक्षक ने कहा, ‘‘हमारी चौकी एक पहाड़ी पर थी और विस्फोट इसके ठीक नीचे हुआ। विस्फोट के बाद हमने केंद्रीय बलों की मदद से तुरंत इलाके की नाकाबंदी कर दी और जांच शुरू कर दी।’’

उपाध्याय ने कहा कि शुक्रवार की सुबह मिजोरम पुलिस (Mizoram police) के इंडियन रिजर्व बटालियन का एक कर्मी इलाके में घूमता पाया गया और वह वहां अपनी मौजूदगी का कारण नहीं बता पाया।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने उसे पकड़ लिया और जांच के दौरान विस्फोट में उसकी संलिप्तता पाई गई। कल हमने उसे गिरफ्तार कर लिया और एक अदालत में पेश किया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।’’

दो दिनों पहले असम पुलिस ने कचुरथल इलाके में एक पुल के निर्माण पर आपत्ति जताई थी जिस पर अगस्त में विवाद के बाद निर्माण रोक दिया गया था।

पुलिस अधीक्षक ने कहा, ‘‘मिजोरम प्रशासन आज पुलिस निर्माण स्थल पर आया और जो निर्माण शुरू किया गया था उसे तोड़ दिया। वे अपना उपकरण और मशीन भी साथ ले गए।’’