असम और मिजोरम सीमा विवाद पर तीसरे दौर की वार्ता 17 नवंबर को होने की संभावना है। असम सरकार ने मिजोरम के साथ तीसरे दौर की सीमा वार्ता के लिए 17 नवंबर की तारीख प्रस्तावित की है। यह बैठक गुवाहाटी में होने की संभावना है। असम और मिजोरम की राज्य सरकारों के बीच तीसरे दौर की वार्ता मंत्री स्तर की होगी। असम सरकार ने गुरुवार को मिजोरम के साथ बातचीत करने के लिए 17 नवंबर की तारीख प्रस्तावित की।

Facebook अप्रैल 2023 से बंद करने जा रही यह सर्विस, पब्लिशर्स को होगा बड़ा नुकसान

जानकारी के मुताबिक मिजोरम के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व राज्य के गृह मंत्री लालचमलियाना करेंगे। दूसरी ओर, असम के मंत्री अतुल बोरा असम टीम की अगुवाई कर सकते हैं।

मिजोरम के तीन जिले- आइजोल, ममित और कोलासिब असम के कछार, करीमगंज और हैलाकांडी जिलों के साथ 164.6 किलोमीटर लंबी अंतर-राज्यीय सीमा साझा करते हैं। दो पड़ोसी राज्यों के बीच सीमा विवाद एक लंबे समय से लंबित और उलझा हुआ मुद्दा है जो 1875 और 1933 के दो औपनिवेशिक सीमांकन से उपजा है।

त्रिपुरा सरकार ने ब्रू शरणार्थियों से आठ दिसंबर तक मतदाता सूची में नाम दर्ज करवाने की अपील की

एक तरफ जहां, मिजोरम ने 1875 में अधिसूचित इनर लाइन रिजर्व फॉरेस्ट को अपनी एतिहासिक सीमा माना, वहीं असम ने 1933 में भारत के नक्शे के सर्वेक्षण को अपनी संवैधानिक सीमा के रूप में स्वीकार किया है।