बलात्कार करना एक आम बात हो गई है लेकिन हैवानों और दरिदों को सजा मिलना कोई बात ही नहीं है। ये बेखौफ होकर जीते हैं और खौफ के साये में औरत जात घुट घुट के ना मरती है ना ही जिंदा रहती है। हैवानों अपनी मौजूदगी एक और सबूत मिजोरम में पेश किया जहां 41 वर्षीय महिला का सामूहिक बलात्कार (gang rape) कर दर्दनाक से भी बदतर मौत दी है।
पूर्वोत्तर राज्य मिजोरम (Mizoram) के लवंगतलाई जिले के नघालिमलुई गांव  में इस घटना को अंजाम दिया गया है। जहां एक सब्जी के बगीचे में एक 41 वर्षीय महिला की खौफनाक हालातों में लाश मिली है। स्थानिय पुलिस को शक है कि हत्या से पहले उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म (gang rape) किया गया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पीड़ित महिला के सिर में धारदार हथियार से वार किया गया है और उसके गुप्तांगों (private parts) को हथियार से क्षत-विक्षत कर दिया गया। पुलिस ने  यह भी बताया है कि गुप्तांगों में धारदार हथियार से इतने वार किए गए हैं कि शब्दों में नहीं बताया जा सकता है। आगे की जांच जारी है।