शिलांग : असम और मेघालय के बीच दूसरे चरण की सीमा वार्ता स्वतंत्रता दिवस समारोह के बाद होगी। मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

यह भी पढ़े : Raksha Bandhan 2022: 24 साल बाद रक्षा बंधन पर बन रहा है दुर्लभ शुभ संयोग, जानें मुहूर्त और विधि


मेघालय के सीएम कोनराड संगमा ने कहा, 7 अगस्त को असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और मैंने एक बैठक की और हमने स्वतंत्रता दिवस के बाद सीमा वार्ता के दूसरे चरण की पहली बैठक आयोजित करने का फैसला किया।

हालांकि मेघालय के मुख्यमंत्री ने बताया कि बैठक की सही तारीख अभी तय नहीं की गई है। असम और मेघालय के बीच सीमा वार्ता के दूसरे चरण में शेष छह क्षेत्रों में मतभेदों को सुलझाने के लिए चर्चा की जाएगी।

यह भी पढ़े : Raksha Bandhan 2022 : रक्षाबंधन 12 अगस्त को, इस बार पंचक महायोग में मनेगा राखी का त्योहार, जानिए शुभ


मेघालय के सीएम कोनराड संगमा ने मंगलवार को "रेड नोंगटुंग के प्रतिनिधियों से मुलाकात की जिसके तहत असम-मेघालय सीमा वार्ता के दूसरे चरण में 18 गांवों को लिया जाएगा।

29 मार्च को असम और मेघालय ने अंतर के 12 क्षेत्रों में से कम से कम छह में सीमा विवादों को हल करने के लिए एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर किए।

दोनों राज्यों के बीच 50 साल पुराने लंबित सीमा विवाद को हल करने के लिए असम और मेघालय के मुख्यमंत्री - हिमंत बिस्वा सरमा और कॉनराड संगमा के बीच समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे।