केंद्र सरकार की तरफ से जारी अनलॉक 5 की गाइडलाइंस के मुताबिक 15 अक्टूबर से स्कूलों को दोबारा खोला जाएगा। हालांकि, दिल्ली, कर्नाटक और छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों ने फिलहाल स्कूलों को नहीं खोलने का फैसला किया है। वहीं, हरियाणा और मेघालय जैसे कुछ राज्यों ने अभी तक इस बारे में कोई फैसला नहीं किया है।

इससे पहले जारी हुए अनलॉक- 4 के दिशा-निर्देशों के तहत सरकार ने 21 सितंबर से 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए आंशिक तौर पर स्कूल खोलने की अनुमति दी थी। हालांकि, अभी भी ज्यादातर पैरेंट्स बच्चों को कोरोना के बीच दोबारा स्कूल भेजने के पक्ष में नहीं है। इसके बाद 01 अक्टूबर से लागू हुई अनलॉक-5 की गाइडलाइंस के बाद अब 15 अक्टूबर से फिर से स्कूल खोले जा रहे हैं। इसके लिए आखिरी फैसला राज्य सरकार को लेना होगा।

दिल्ली

दिल्ली सरकार ने स्कूलों को 31 अक्टूबर तक यथावत बंद रखने का फैसला किया है। इसके बाद हालात की समीक्षा कर स्कूल खोलने पर दोबारा फैसला किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश

राज्य सरकार ने घोषणा की है कि कंटेनमेंट जोन के बाहर के स्कूलों में नौवीं से बारहवीं तक की स्टूडेंट्स के लिए 19 अक्टूबर से दोबारा खोले जा सकेंगे। हालांकि, स्कूल आने के लिए पैरेंट्स की अनुमति होनी जरूरी होगी।

कर्नाटक

स्कूलों को दोबारा खोलने के बारे में कर्नाटक सरकार ने कहा है कि उसे स्कूलों को दोबारा खोलने की कोई हड़बड़ी नहीं है और वह सभी पहलुओं का अध्ययन करने के बाद इस बारे में निर्णय लेगी।

छत्तीसगढ़ सरकार ने कहा है कि राज्य के स्कूल महामारी के मद्देनजर अगले आदेश तक बंद रखने का फैसला किया। वहीं, महाराष्ट्र सरकार ने दिवाली के बाद कोविड-19 के हालात की समीक्षा करने तक स्कूल बंद ही रखने का फैसला किया है।

गुजरात

राज्य सरकार ने भी कहा है कि वह दिवाली के बाद ही स्कूलों को दोबारा खोलने पर विचार कर सकती है। वहीं, मेघालय सरकार ने राज्य में स्कूलों को पुन: खोलने पर अंतिम फैसला लेने से पहले अभिभावकों की प्रतिक्रिया जाननी चाही है।

पुडुचेरी

सरकार ने घोषणा की है कि 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए आठ अक्टूबर से क्लासेस शुरू की गई हैं। पुडुचेरी के शिक्षा निदेशक रुद्र गौड़ के मुताबिक अगले आदेश तक हफ्ते के छह दिन सिर्फ आधे दिन तक क्लासेस लगेंगी।

हरियाणा

हरियाणा में सरकार छठी से 9वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए स्कूलों को फिर से खोलने पर विचार कर रही है, जिससे वे टीचर्स से मार्गदर्शन ले सकें, लेकिन इस बारे में अभी कोई आखिरी फैसला नहीं हुआ है।

आंध्र प्रदेश

राज्य सरकार ने दो नवंबर तक सामान्य तरीके से क्लासेस फिर से नहीं लगाने का फैसला किया है। वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कहा कि स्कूलों को फिर से खोलने पर फैसला नवंबर के बीच में किया जाएगा।