पीएम मोदी अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के जरिए देशवासियों से बातचीत कर रहे हैं। पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल में यह 18वां मौका है जब वह 'मन की बात' कर रहे हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने आजकल इंटरनेट पर वायरल हो रही चेरी ब्लॉसम की तस्वीरों का सच बताया।

पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के दौरान कहा- 'पिछले कुछ दिनों से इंटरनेट चेरी ब्लॉसम की वायरल तस्वीरों से भरा हुआ है। आप सोच रहे होंगे जब मैं चेरी ब्लॉसम की बात कर रहा हूं तो जापान की इस प्रसिद्ध पहचान की बात कर रहा हूं? लेकिन ऐसा नहीं है। ये, जापान की तस्वीरें नहीं हैं।'

पीएम मोदी ने मन की बात में आगे कहा- चेरी ब्लॉसम की इंटरनेट पर वायरल हो रहीं तस्वीरें अपने मेघालय के शिलॉन्ग की हैं। मेघालय की खूबसूरती को इन चेरी ब्लॉसम ने और ज्यादा बढ़ा दिया है।

गुलाबी फूलों से लदे चेरी ब्लॉसम के पेड़ जब सर्दियों का स्वागत करने के लिए तैयार होते हैं तो यह नजारा बेहद खूबसूरत दिखाई देता है। मेघालय में हर साल शिलॉन्ग में चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल आयोजित की जाती है। इस मौसम में चेरी ब्लॉसम का पेड़ फलता है और शिलॉन्ग हर तरफ गुलाबी नजर आता है।

कोविड-19 महामारी का असर इस बार चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल पर भी पड़ा है। मेघालय के शिलॉन्ग में आयोजित होने वाले चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल को इस बार आयोजित नहीं किया जाएगा। कोरोना महामारी के कारण यह फैसला लिया गया है। बता दें कि इस फेस्टिवल में शामिल होने के लिए हर साल हजारों सैलानी शिलॉन्ग आते हैं।