मेघालय पुलिस ने आज राज्य के री भोई जिले के बिरनीहाट में एक वाहन से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया। यह बरामदगी रूटीन चेकिंग के दौरान हुई। पुलिस ने कहा कि जब संबंधित वाहन को रुकने के लिए कहा गया, तो चालक ने सही रास्ता दिखाया। पुलिस की कड़ी मशक्कत के बाद ही वाहन को रोका जा सका। इस सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले मेघालय पुलिस ने गुवाहाटी में दो Nigerian drugs smugglers की हालिया गिरफ्तारी ने शिलांग में 'एक्स्टसी' ड्रग कार्टेल की एक 'लिंक' को उजागर किया है। पुलिस की एक टीम ने रेलवे स्टेशन से 20 ग्राम कोकीन ले जा रहे दो नाइजीरियाई नागरिकों को गिरफ्तार किया।

सूत्रों ने बताया कि विशेष खुफिया सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने अभियान शुरू किया था और नाइजीरिया के दो तस्करों के पास से Cocaine की खेप जब्त की थी। दो Nigerian Cocaine smugglers की पहचान इमैनुएल एनुमा डाइक और इफेनी चार्ल्स ओकुकाज के रूप में की गई।
नाइजीरियाई ड्रग्स तस्करों ने कबूल किया कि उन्हें कोकीन की खेप शिलांग के एक हाई-प्रोफाइल क्लाइंट के 'वाहक' को सौंपनी थी। दो नाइजीरियाई ड्रग तस्करों के कबूलनामे के आधार पर, पुलिस ने एक ड्राइवर सोनी सोनार को गिरफ्तार किया।
कई घंटों की पूछताछ के बाद, सोनी सोनार ने कबूल किया कि उसे उसके मालिक प्रतीक अग्रवाल ने दो नाइजीरियाई नागरिकों से 'पैकेट' लेने के लिए कहा था।
इसके बाद, प्रतीक अग्रवाल को उठाया गया, और पूछताछ के दौरान, यह पाया गया कि वह शिलांग का एक व्यवसायी है, और शिलांग के एक प्रसिद्ध होटल अल्पाइन कॉन्टिनेंटल के मालिक कमल अग्रवाल का बेटा है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि प्रतीक अग्रवाल ने स्वीकार किया कि उसने सोनी सोनार को नाइजीरिया के दो तस्करों से कोकीन का 'पैकेट' लेने के लिए कहा था।