मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने ‘नॉर्थ-ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी’ (एनईएचयू) में स्वतंत्रता सेनानी यू तिरोल सिंह यिएम और यू किआंग नांगबह के चित्रों का लोकार्पण किया। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी। राज्यपाल शुक्रवार को विश्वविद्यालय गए थे और उन्होंने दोनों स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को याद रखने के लिए विश्वविद्यालय की सराहना की।

उन्होंने कहा कि दोनों स्वतंत्रता सेनानियों के चित्र राजभवन में भी लगे हैं। मलिक ने कुलपति से दोनों स्वतंत्रता सेनानियों पर शोध के लिए एक सीट बनाने का भी अनुरोध किया ताकि पूरा देश उनके बारे में जान सके। कुलपति प्रोफेसर एस. के. श्रीवास्तव ने कहा कि विश्वविद्यालय के दो आगंतुक कक्षों का नाम भी स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर रखा गया है।

राज्यपाल ने ‘खासी ऑथर सोसाइटी’ (केएएस) के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात में आश्वासन दिया कि वह खासी समुदाय को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल करने की मांग को केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के समक्ष उठाएंगे। केएएस के महासचिव डॉ. रोनाल्ड पील ने शनिवार को एक बयान में कहा, ‘‘राज्यपाल ने हमें आश्वासन दिया है कि वह केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मार्च में शिलांग यात्रा के दौरान इस बारे में उनसे बात करेंगे।’’