मेघालय सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए दो और जांच केन्द्र खोलने की केन्द्र सरकार से अनुमति मांगी है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ए एल हेक ने शनिवार को यह जानकारी दी। राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से एक व्यक्ति की मौत हो गई है और 11 लोग संक्रमित हैं।


राज्य के केवल एक जांच केन्द्र है। यह जांच केन्द्र यहां उत्तर पूर्वी इंदिरा गांधी क्षेत्रीय स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विज्ञान संस्थान(एनईआईजीआरआईएचएमएस) में है। हेक ने ‘पीटीआई-भाषा’से कहा, 'मैंने कन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन से राज्य में जांच केन्द्र की संख्या बढ़ाने पर गौर करने की अपील की है।'


हेक ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस से डॉ हर्षवर्धन से बात की थी। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि उन्होंने यहां एनईआईजीआरआईएचएमएस में और पश्चिम गारो हिल्स जिले के तूरा सरकारी अस्पताल में एक-एक जांच केन्द्र बनाने का प्रस्ताव दिया है। उन्होंने कहा, 'यह कोविड-19 को प्रभावी तरीके से रोकने में सरकार की मदद करेगा।'


हेक ने बताया कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने उनके अनुरोध पर ध्यान देने का भरोसा दिलाया है। अभी एनईआईजीआरआईएचएमएस में प्रति दिन 100 नमूनों की जांच हो सकती है। राज्य सरकार ने हाल ही में कहा था कि इसमे एक और मशीन लगाई जाएगी जो इसकी क्षमता बढ़ा देगी और प्रतिदिन 180 नमूनों की जांच की जा सकेगी। उन्होंने कहा, 'मैंने केन्द्रीय मंत्री को बताया है कि पूर्वी खासी हिल्स जिले को 'रेड जोन' की श्रेणी में रखा गया है और संक्रमण के अब तक के सभी मामलों का स्रोत एक ही है।'