दो साल के अंतराल के बाद बलत-लौवाघर में भारत-बांग्लादेश सीमा हाट मंगलवार को फिर से खुल गया। जबकि बालाट मेघालय के पूर्वी खासी हिल्स जिले का एक शहर है लाउवाघर बांग्लादेश में सुनामगंज जिले के दलोरा में है। इस बार्डर हाट को फिर से खोलने का फैसला संयुक्त सीमा हाट प्रबंधन समिति ने 19 अप्रैल को हुई बैठक में लिया।  दूसरी ओर  रिंगकू (पूर्वी खासी हिल्स, मेघालय)-बगान बारी (दुआरा बाजार, सुनामगंज) सीमा हाट 12 मई को फिर से खुलेंगे।

यह भी पढ़े : दूसरी बार शादी के बंधन में बंधे पूर्व क्रिकेटर अरुण लाल, लंबे समय की दोस्त बुल बुल साहा से की शादी


नालिकाटा (दक्षिण पश्चिम खासी हिल्स, मेघालय)-सैयदाबाद (ताहिरपुर, सुनामगंज) सीमा हाट 16 मई को फिर से खुलेगा। वर्तमान में सात भारत-बांग्लादेश सीमा हाट हैं, जिनमें नौ और खुलने की राह पर हैं।

यह भी पढ़े : बीजेपी नेता को हाईकोर्ट का नोटिस, मंत्री बिस्वजीत सिंह का विधानसभा चुनाव रद्द घोषित किया जाएगा?


दोनों देशों के बीच सीमावर्ती हाट सीमा के दोनों ओर के निवासियों को स्थानीय रूप से उत्पादित कृषि और बागवानी उत्पादों को बेचने में सक्षम बनाते हैं।सीमा हाट अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रहने वाले लोगों के लिए अतिरिक्त आय प्रदान करते हैं।