मेघालय (Meghalaya) के गृह मंत्री लहकमेन रिंबुई (Lahkmen Rimbui) ने बताया कि प्रतिबंधित ‘हाइनिवट्रेप नेशनल लिबरेशन काउंसिल’ (HNLC) के एक उग्रवादी ने पूर्वी जयंतिया पर्वतीय जिले में एक वरिष्ठ अधिकारी के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

उग्रवादी की पहचान एमानुएल सुचेन के तौर पर हुई हैं, जो इस साल की शुरुआत में जिले में हुए दो आईईडी (IED) हमलों में वांछित था। उसने खलीहरियात के जिला मुख्यालय में बृहस्पतिवार को वरिष्ठ जिला अधिकारी के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।

गृह मंत्री ने बताया, ‘‘सुचेन ने खलीहरियात के पूर्वी जयंतिया पर्वतीय जिले में अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट के समक्ष आत्मसमर्पण किया।’’ उन्होंने बताया कि आत्मसमर्पण करने वाले उग्रवादियों के साथ उचित कानूनी प्रक्रिया के मुताबिक पेश आया जाएगा।

गृह मंत्री के अनुसार, सुचेन 2002 में एचएनएलसी से जुड़ा था। 2008 में उसे गिरफ्तार किया गया था और तीन साल तक वह जेल में भी रहा था। जेल से बाहर आने के बाद वह फिर संगठन से जुड़ गया था।

मंत्री ने कहा, ‘‘ प्रारंभिक जांच में पता चला है कि जिले में दो आईईडी हमलों में सुचेन का हाथ था, जिनमें से एक हमला सीमेंट फैक्टरी और पुलिस बैरक में किया गया था।