मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि सुपर साइक्लोनिक स्टॉर्म पश्चिम-मध्य और बंगाल की दक्षिण खाड़ी के आसपास के मध्य भागों में पिछले छह घंटों के दौरान सात किलोमीटर प्रति घंटे की गति के साथ लगभग उत्तर की ओर चला गया। इन्होंने बताया कि यह पश्चिम बंगाल और दक्षिण बंगाल की खाड़ी के मध्य भागों से सटा हुआ है।


उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पूर्व की ओर और आज की शाम के दौरान पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश के तटों को अत्यधिक गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में पार कर जाएगा। यह 185 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 165 से 175 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम निरंतर हवा की गति होने की उम्मीद है। जिससे ओडिशा के इस क्षेत्र में कई स्थानों पर शाम को हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है।
मौसम विभाग ये भी बताया कि गंगीय पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में कल अलग-अलग स्थानों पर भारी गिरावट के साथ कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। और 21 मई को असम और मेघालय के पश्चिमी जिलों में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी गिरावट के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होगी।