शिलॉन्ग। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार सुबह किसानों को बड़ी राहत देते हुए तीनों कृषि कानून (Agriculture Act) वापस लेने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इस महीने के अंत में शुरू होने वाले संसद के शीतकालीन सत्र में इसके लिए जरूरी प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाएगी। पीएम मोदी की इस घोषणा पर मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Meghalaya Governor Satya Pal Malik) ने कहा, "मैं सरकार का और मोदी जी का शुक्रगुज़ार हूं, पर ये तीनों कानून बहुत पहले रद्द करने चाहिए थे, पर देर आए दुरुस्त आए।" 

उन्होंने आगे कहा, "मैं अब भी कह रहा हूं कि मैं किसानों के लिए आवाज़ उठाता रहूंगा। मैं आज भी प्रधानमंत्री के कहने पर गवर्नर पद छोड़ सकता हूं। मैं किसानों से यही कहूंगा कि एकजुट रहकर आवाज़ उठाते रहें। वहीं जो लोग मेरे आलोचक हैं उन्हें यही कहना चाहूंगा कि मुझे गवर्नर उनके पिता ने नहीं बनाया। मलिक ने कहा, "सरकार को किसानों से बातचीत करते रहना चाहिए।" 

पीएम मोदी (pm modi) ने अपने संबोधन में कहा, "मैं देशवासियों से माफी मांगता हूं और सच्चे मन से कहना चाहता हूं कि शायद हमारी तपस्या में ही कोई कमी रह गई होगी, जिसके कारण ​दीये के प्रकाश जैसा सत्य कुछ किसान भाइयों को हम समझा नहीं पाए।"