मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के. संगमा (CM Conrad K. Sangma) ने री भोई जिले के मावसमाई गांव में जोराबत संयुक्त जलापूर्ति योजना की आधारशिला रखी। शिलान्यास समारोह में उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों में जिरांग निर्वाचन क्षेत्र के विधायक सोस्थनीज सोहतुन और जिरांग निर्वाचन क्षेत्र के MDC विक्टर रानी शामिल थे। यह परियोजना एक बहु-ग्राम जलापूर्ति योजना है जिसके अंतर्गत जोराबत, मौसमाई, अम्फेर और अम्पंगिरी के चार गाँव शामिल हैं।

परियोजना का उद्देश्य कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से इन गांवों के निवासियों को स्वच्छ और सुरक्षित पेयजल उपलब्ध कराना है। अपने संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि जल जीवन मिशन (Jal Jeevan Mission) सभी ग्रामीण परिवारों को कार्यात्मक घरेलू नल कनेक्शन प्रदान करने के लिए भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण और महत्वाकांक्षी परियोजना है और इस परियोजना के तहत योजनाओं का कार्यान्वयन राज्य में अच्छी तरह से प्रगति कर रहा है।मुख्यमंत्री (CM Conrad K. Sangma) ने बताया कि राज्य पिछले डेढ़ साल में जल जीवन मिशन के माध्यम से दो लाख से अधिक ग्रामीण घरों को FHTC प्रदान करने में सक्षम रहा है। उन्होंने कहा, "मुझे विश्वास है कि समर्पित अधिकारियों और संबंधित विभाग द्वारा पूरी लगन से काम करने से राज्य दिसंबर 2022 तक करीब 6 लाख FHTC के निर्धारित लक्ष्य को हासिल करने में सक्षम होगा।"