मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा (CM Conrad Sangma) ने यहां के पास पप्पुनल्लाह में बिशप के आवास के अपने दौरे के दौरान, समाज के विकास में योगदान देने के अपने प्रयासों को जारी रखने में चर्चों को हर संभव सहायता का आश्वासन दिया है। संगमा ने कहा कि चर्च (Church) ने एक बेहतर समाज के निर्माण में भाग लिया है।


उन्होंने कहा कि कैथोलिक मिशनरियों (Catholic missionaries) द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न शिक्षण संस्थानों में 40,000 से अधिक छात्र अध्ययन कर रहे हैं। उन्होंने (CM Conrad Sangma) कहा कि "मेरे पिता पहले भी उस स्थान का दौरा कर चुके थे। साथ ही मैं लोगों और समाज को व्यापक रूप से प्रदान की जा रही सेवा में सुधार के लिए चर्च की ओर देखता हूं।"


संगमा (CM Conrad Sangma) ने सम्मेलन में कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि कॉन्क्लेव का स्पष्ट संदेश क्षेत्रीय आकांक्षाओं को बनाए रखना होगा और यह भी सुनिश्चित करना होगा कि राष्ट्रीय हितों की रक्षा की जाए। उन्होंने कहा कि "हम क्षेत्रीय पहलुओं को राष्ट्रीय पहलुओं के साथ कैसे संतुलित करते हैं-यही कॉन्क्लेव का लक्ष्य है "।