मेघालय में चुनावी बिगुल फूंक दिया गया है। यहां कम से कम 34 विधानसभा क्षेत्रों की खर्च के लिहाज से संवेदनशील के तौर पर पहचान की गई है। इन सीटों की कड़ी निगरानी की जाएगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) एफआर खारकोंगोर ने गुरुवार को बताया कि मेघालय की 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए 27 फरवरी को मतदान होगा। नतीजे दो मार्च को आएंगे।

लड़कियों से बात करने में कांपते हैं हाथ-पैर तो नहीं घबराएं, ये 5 तरीके तुरंत बना देंगे बात

खारकोंगोर ने बताया कि हमें रिपोर्ट मिली है कि राज्य भर में कम से कम 34 विधानसभा क्षेत्रों में धन के बहुत अधिक उपयोग की संभावना है। यहां सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया जाएगा। आदर्श आचार संहिता को सख्ती से लागू किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि 747 मतदान केंद्र अतिसंवेदनशील हैं, जबकि 399 मतदान केंद्रों की पहचान विभिन्न कारणों से संवेदनशील के रूप में की गई है। आगामी विधानसभा चुनाव में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 120 कंपनियां तैनात की जाएंगी।

फिल्मों, ओटीटी के लिए शंकराचार्य ने बनाया धर्म सेंसर बोर्ड : जारी हुई गाइडलाइंस

वैध दस्तावेजों के बिना 50,000 रुपये से अधिक की नकदी या सोना या चांदी ले जाना, दीवार पर लिखावट, पोस्टर या कागज चिपकाना या अधिकारियों की अनुमति के बिना कट-आउट और बैनर प्रदर्शित करना पश्चिम खासी हिल्स जिले में आदर्श आचार संहिता लागू होने के कारण प्रतिबंधित है।