मेघालय के पूर्वी जयंतिया हिल्स जिले में एक कोयला खदान में दुर्भाग्यपूर्ण हादसे में 6 खनिक मारे गए। इसी मामले में भाजपा ने राज्य में अवैध कोयला खनन पर अंकुश लगाने में कथित रूप से विफल रहने के लिए लक्ष्मण रिम्बुई के इस्तीफे की मांग की है। भाजपा ने 22 जनवरी को पूर्वी जयंतिया हिल्स के रिंबाई इलाका में एक कोयला में 6 खनिकों की मौत की स्वतंत्र जांच की भी मांग की थी, जिसमें गृह मंत्री लक्ष्मण रिंबुई विफल रहे।


 

मेघालय के भाजपा अध्यक्ष अर्नेस्ट मावरी ने कहा कि खनिकों की मौत और अवैध कोलय खनन तथ्यों का पता लगाने के लिए एक स्वतंत्र जांच में रिंबोई असफल रहे। इस मामले में पहले भी कई खनिकों की कोयला खदान में मौत हो गई थी जिसमें कई काफि मश्कत के बाद भी खनिकों के शव नहीं मिल पाए थे। इस बीच, मेघालय के स्वास्थ्य मंत्री और राज्य के वरिष्ठ भाजपा नेता एएल हेक ने गृह मंत्री लक्ष्मण रिंबुई के नेतृत्व में अपना समर्थन दिया है।

 


एएल हेक ने कहा कि लक्ष्मण रिंबुई को पिछले महीने पूर्वी जयंतिया हिल्स में कोयला खदान में हुई दुर्घटना के लिए दोषी नहीं ठहराया जा सकता है, जिससे 6 खनिकों की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि कोई भी इस घटना के लिए गृह मंत्री को दोष नहीं दे सकता। हमारे गृह मंत्री की क्षमताओं पर मुझे कोई संदेह नहीं है। विशेष रूप से, एएल हेक, जो एक राज्य मंत्री और एक वरिष्ठ भाजपा नेता हैं, का यह बयान मेघालय के भाजपा अध्यक्ष अर्नेस्ट मावरी के बयान और मांग के विपरीत है।