मेघालय (Meghalaya) के पूर्वी खासी पर्वतीय जिले के एक सीमावर्ती गांव से सोमवार को 19 बांग्लादेशी (Bangladeshi) नागरिकों को गिरफ्तार किया गया। सीमा सुरक्षा बल (BSF) के अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। 

बीएसएफ के एक अधिकारी ने कहा कि ये बांग्लादेशी नागरिक काम के लिए जम्मू-कश्मीर जा रहे थे और इनके बारे में विशिष्ट खुफिया जानकारी मिलने के बाद बॉर्डर आउट पोस्ट रिंखुआ पर तैनात बीएसएफ के जवानों ने भारत-बांग्लादेश अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास इन घुसपैठियों को गिरफ्तार किया। 

गिरफ्तार किए गए लोगों में 13 पुरुष, तीन महिलाएं ,तीन बच्चे और दो बांग्लादेशी दलाल शामिल हैं और सभी बांग्लादेश के सुनामगंज जिले के निवासी हैं। 

बीएसएफ के महानिरीक्षक, मेघालय फ्रंटियर, इंद्रजीत ङ्क्षसह राणा ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ में इन्होंने खुलासा किया कि बांग्लादेशी दलालों में से एक ने उन्हें श्रम कार्य के लिए कश्मीर (भारत) ले जाने के इरादे से अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करने में मदद की, राणा ने कहा कि मेघालय फ्रंटियर के जवान मेघालय सीमा के संवेदनशील इलाकों में घुसपैठ की आशंका वाले क्षेत्रों में अतिरिक्त चौकसी बरत रहे हैं उन्होंने उन सैनिकों की भी सराहना की जिन्होंने घुसपैठ के प्रयास को विफल करने के लिए यह विशेष अभियान चलाया था।