तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित और मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने एल. गणेशन को मणिपुर का राज्यपाल नियुक्त किए जाने पर रविवार को बधाई दी।

पुरोहित ने कहा कि उन्हें गणेशन को मणिपुर का राज्यपाल नियुक्त किए जाने के बारे में जानकर खुशी हुई। राजभवन की ओर से जारी एक बयान में उन्होंने कहा, ‘मैं एल. गणेशन को बधाई देता हूं और मणिपुर के लोगों की सेवा के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता हूं। मैं मणिपुर में उनके शांतिपूर्ण और सफल कार्यकाल की कामना करता हूं।’

इस बीच, द्रमुक अध्यक्ष स्टालिन ने एक ट्वीट करके गणेशन को एक बड़े भाई के रूप में संबोधित किया और अपने दिवंगत पिता एवं पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के साथ भाजपा नेता के स्नेहपूर्ण संबंधों को याद किया। स्टालिन ने ट्वीट में कहा, ‘बड़े भाई एल. गणेशन को बधाई... जिनके पास लंबा राजनीतिक अनुभव है।’

तेलंगाना की राज्यपाल और पुडुचेरी की उपराज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन ने भी गणेशन को बधाई दी। सुंदरराजन ने अपने संदेश में कहा कि उन्हें खुशी है कि ‘तमिलनाडु के वरिष्ठ भाजपा नेता और मेरे बड़े भाई, जिन्हें मैं हमेशा उच्च सम्मान में देती हूं, उन्हें मणिपुर का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।’

उन्होंने कहा कि गणेशन के अनुभव और प्रशासनिक क्षमता से मणिपुर के विकास में काफी मदद मिलेगी। तमिलनाडु से भाजपा के वरिष्ठ नेता गणेशन को रविवार को मणिपुर का नया राज्यपाल नियुक्त किया गया। नजमा हेपतुल्ला की इस महीने की शुरुआत में सेवानिवृत्ति के बाद मणिपुर के राज्यपाल का पद रिक्त हो गया था।

राष्ट्रपति भवन ने एक विज्ञप्ति जारी कर बताया कि गणेशन ‘‘मणिपुर के राज्यपाल के कार्यालय का पदभार ग्रहण करने की तारीख से राज्य के नए राज्यपाल’’ होंगे।