चुराचांदपुर के जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) ने एक्टिविस्ट मार्क थंगमांग हाओकिप की बिना शर्त रिहाई की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन के बाद चुराचांदपुर शहर में धारा 144 लागू कर दी है। हाओकिप इंटरनेशनल ह्यूमन राइट्स एसोसिएशन (IHRA) की मणिपुर इकाई के अध्यक्ष हैं। 

ये भी पढ़ेंः कोरिमयुम अब्दुलाह की मौत मामले में आरोपियों ने पुलिस के सामने किया आत्मसमर्पण


सोशल मीडिया पर नफरत फैलाने के आरोप में चुराचांदपुर जिला पुलिस की एक टीम ने उन्हें मंगलवार को नई दिल्ली से गिरफ्तार किया। हाओकिप ने चुराचांदपुर पुलिस स्टेशन को अपना बयान दर्ज करने के लिए संबंधित जांच अधिकारी के सामने पेश होने की सूचना देने वाले समन का भी जवाब नहीं दिया था। वहीं हाओकिप की बिना शर्त रिहाई की मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों रैली निकाली। इस दौरान चुराचांदपुर कस्बे में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हो गई, जिसमें 10 प्रदर्शनकारी और 3 पुलिसकर्मी घायल हो गए। 

ये भी पढ़ेंः मणिपुर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, दो तस्करों से जब्त की 9 करोड़ रुपए की नशीली दवाईयां


चुराचांदपुर जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि उनके कार्यालय को जिला पुलिस अधीक्षक से एक रिपोर्ट मिली है कि चुराचांदपुर जिले में हिंसा की संभावना है। ऐसे में यहां धारा 144 लाग कर दी गई। यह आदेश बुधवार की रात 9 बजे से अगले आदेश तक जारी रहेगा।