सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कोविड-19 के ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले बढ़ने के मद्देनजर दो हफ्तों के लिए सभी सुनवाई वर्चुअल तरीके से करने का रविवार को फैसला किया. शीर्ष न्यायालय प्रशासन ने रविवार शाम फैसले की घोषणा करते हुए एक परिपत्र जारी किया. इसमें कहा गया है कि शारीरिक उपस्थिति के साथ सुनवाई (हाईब्रिड सुनवाई) के लिए मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) निर्धारित करने वाला पहले जारी किया गया एक परिपत्र इस अवधि के लिए निलंबित रहेगा.

एसओपी सात अक्टूबर 2021 को अधिसूचित किया गया था. परिपत्र में कहा गया है कि तीन जनवरी से दो हफ्तों के लिए अदालतों में सभी सुनवाई सिर्फ वर्चुअल माध्यम से होगी. सुप्रीम कोर्ट सर्दियों के अवकाश के बाद सोमवार से फिर से खुलने जा रहा है. वहीं देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 27,553 नए मामले सामने आए हैं. साथ ही पिछले 24 घंटों में 284 लोगों की मौत भी हुई है.

साथ ही कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के 94 नए मामले सामने आने के बाद रविवार को कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1525 हो गई है. चिंता की बात ये है कि पहली बार नवंबर में दक्षिण अफ्रीका में पाए जाने के बाद ओमिक्रॉन अब देश के 23 राज्यों में फैल गया है. इसमें केंद्र शासित प्रदेश भी शामिल हैं. कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में हैं. यहां ओमिक्रॉन वेरिएंट के 460 मामले हैं.

महाराष्‍ट्र के बाद दिल्ली में 351, गुजरात में 136, तमिलनाडु में 117, केरल में 109, राजस्थान में 69, तेलंगाना में 67, हरियाणा में 63, कर्नाटक में 64, आंध्र प्रदेश में 17, पश्चिम बंगाल में 20, ओडिशा में 14, मध्य प्रदेश में 9, उत्तर प्रदेश में 8, उत्तराखंड में 8, चंडीगढ़ में 3, जम्मू कश्मीर में 3, अंडमान और निकोबार में 2, गोवा में 1, हिमाचल प्रदेश में 1, लद्दाख में 1, मणिपुर में 1 और पंजाब में 1 ओमिक्रॉन के मामले हैं.

भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों में भी अब लगातार वद्धि दर्ज की जा रही है. शनिवार को कोरोना के 22,775 नए मामले सामने आए थे, वहीं आज देशभर से कोविड के 27,553 मामले सामने आए हैं. इस दौरान 284 मरीजों की मौत हो गई. मौत के नए आंकड़े सामने आने के बाद संक्रमण से मरने वालों की संख्या देश में 4,81,486 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि भारत में कोरोनावायरस के एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 1,22,801 हो गई है.