प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कांग्रेस पर ‘मणिपुर में आतंकवाद को बढ़ाने और उसे बढ़ावा देने’ का आरोप लगाया। मणिपुर में वस्तुत: दिल्ली से एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए, पीएम मोदी ने मणिपुर में अस्थिरता, पिछड़ेपन और भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि लोग इस चुनाव में दोबारा पार्टी का समर्थन नहीं करेंगे। मणिपुर विधानसभा चुनाव के पहले दौर में (सोमवार को), लोगों ने भाजपा को अपना आशीर्वाद दिया है। दूसरे दौर के चुनाव में भारी समर्थन के साथ, लोग मणिपुर में डबल इंजन सरकार की सुविधा प्रदान करेंगे।

ये भी पढ़ेंः वोटिंग के दौरान चुनावी हिंसा, कांग्रेस उम्मीदवार गिरफ्तार, कांग्रेस पार्टी ने की रिहाई की मांग


प्रधानमंत्री ने कहा कि मणिपुर के लोगों ने भारत की आजादी के लिए बलिदान दिया, लेकिन कांग्रेस ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस और अन्य स्वतंत्रता सेनानियों को कोई महत्व नहीं दिया, जबकि भारतीय राष्ट्रीय सेना ने सबसे पहले मणिपुर के मोइरंग में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। प्रधानमंत्री ने कहा कि मणिपुर भारत का निर्यात और अंतर्राष्ट्रीय प्रवेश द्वार होगा और एशियाई राजमार्ग परियोजना के माध्यम से राज्य एशियाई और यूरोपीय देशों से जुड़ा होगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि एक्ट ईस्ट नीति के तहत पूर्वोत्तर राज्यों को व्यापार को बढ़ावा देने के लिए एशियाई देशों के साथ जोड़ा जाएगा।

ये भी पढ़ेंः मणिपुर में चुनाव से पहले हुए चुराचांदपुर विस्फोट में मरने वालों की संख्या हुई तीन


वस्तुत: दिल्ली से मणिपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि मणिपुर में निर्माणाधीन भारत के पहले खेल विश्वविद्यालय को अंतर्राष्ट्रीय संस्थान बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मणिपुर में एक एम्स और एक कौशल विश्वविद्यालय स्थापित किया जाएगा और कहा कि दिग्गज भारतीय मुक्केबाजी एम.सी. मैरी कॉम और मणिपुर की वैटलिफ्टर मीराबाई चानू भारत की खेल प्रतिष्ठित हस्तियां हैं। मोदी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए एक अलग मंत्रालय, पूर्वोत्तर क्षेत्र का विकास (डीओएनईआर) की स्थापना की थी, लेकिन कांग्रेस के नेतृत्व वाली पिछली यूपीए सरकार ने मंत्रालय को निष्क्रिय रखा क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि क्षेत्र का विकास हो। यह कहते हुए कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास को आगे बढ़ाने के लिए केंद्रीय मंत्री अक्सर इस क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मणिपुर सरकार के ‘गो टू हिल्स’ और ‘गो टू विलेज’ कार्यक्रमों ने कांग्रेस की साजिशों और विकास विरोधी एजेंडे को उजागर किया।