दक्षिण दिल्ली के महरौली में रहने वाले मणिपुर के पत्रकार ने पड़ोसियों के खिलाफ कथित तौर पर उत्पीड़न करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस ने सोमवार को बताया कि पत्रकार रोनेंद्र सिंह सपम की शिकायत के मुताबिक बिना पूरी तरह तैयार व साज-सज्जा के बगैर फ्लैट देने पर बिल्डर के खिलाफ जब उन्होंने आवाज उठाने की कोशिश की तब पड़ोसियों ने उन्हें धमकी दी और उत्पीड़न किया। सपम के मुताबिक रविवार को हाउसिंग सोसायटी ने लिफ्ट खराब होने के मुद्दे पर बैठक बुलाई लेकिन मामले पर चर्चा के बजाय कुछ स्थानीय लोगों ने उन्हे धक्का दिया और बिल्डर की ओर से धमकी दी।

पुलिस ने कहा कि प्राथमिकी में नामजद तीन लोगों के खिलाफ निषेधात्मक कार्रवाई की गई है और मामले की जांच जारी है। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर ने कहा कि शिकायत में नामजद लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

सोमवार को ट्विटर पर पत्रकार ने आरोप लगाया, “एक तरफ मणिपुर की मेरी बहनें ओलंपिक में भारत को गौरवान्वित कर रही हैं, यहां दिल्ली में हमारे साथ बाहरियों जैसा बर्ताव किया जा रहा है। मेरे अपने पड़ोसी ने आज मुझे गालियां देते हुए धमकी दी और धक्का दिया। यह आज का नया भारत है जिसमें हम जी रहे हैं।” वह तोक्यो ओलंपिक में वेटलिफ्टर मीराबाई चानू और बॉक्सर मैरीकॉम के प्रभावशाली प्रदर्शन के संदर्भ में यह बात कह रहा था।