पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर में चुनाव (Manipur Assembly Election) की घोषणा के बाद सभी राजनीतिक दल सक्रिय हो गए है। हालांकि चुनाव आयोग ने राज्य में किसी तरह की रैली, जनसभा पर रोक लगा रखी है। फिर भी राज्य का राजनीतिक तापमान बढ़ता ही जा रहा है। मणिपुर का 'उरीपोक विधानसभा सीट' (Uripok assembly seat) महत्वपूर्ण सीट माना जाता है। साल 2017 के विधानसभा चुनाव (Assembly elections 2017) में इस सीट पर नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) ने जीत दर्ज की थी। 

लेकिन इस बार इस सीट पर किसका कब्जा होगा यह जनता को तय करना है। इस सीट पर रविवार, 27 फरवरी 2022 को चुनाव होने हैं। बता दें कि उरीपोक विधानसभा सीट मणिपुर के इंफाल वेस्ट जिले में आती है। इस सीट पर 2017 के विधानसभा चुनाव में सिर्फ 32.03 प्रतिशत वोट पड़े थे। इस सीट पर नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) के यमनाम जॉयकुमार सिंह (Yamanam Joykumar Singh) ने जीत दर्ज की थी। उन्होंने कांग्रेस प्रत्यासी लिश्रम नंदकुमार सिंह (Lisram Nandkumar Singh) को 345 वोटों के हराया था।

गौर हो कि उरीपोक विधानसभा सीट आंतरिक मणिपुर के अंतर्गत आती है। इस संसदीय क्षेत्र के सांसद के के रंजन सिंह (MP KK Ranjan Singh) हैं, जो भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता हैं। उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) में कांग्रेस के ओइनम नबा किशोर सिंह (Oinam Naba Kishore Singh) को 17755 वोटों से  हराया था।

बता दें कि 1972 से अबतक उरीपोक सीट पर 11 बार विधानसभा चुनाव हुए हैं जिसमें 5 बार कांग्रेस ने जीत हासिल की है। काग्रेस साल 2002 से लगातार 2007 और 2012 में जीतती आ रही थी लेकिन उसके जीत के सिलसिले पर एनपीपी ने 2017 में ब्रेक लगा दी। गौर हो कि मणिपुर में इस बार दो चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। पहले चरण के लिए 27 फरवरी और दूसरे और अंतिम चरण के लिए 3 मार्च को वोट डाले जाएंगे। वहीं मतो की गिनती 10 मार्च को होगी।