अंतरराष्ट्रीय भारोत्तोलन महासंघ (आइ डब्ल्यू यू एस) ने भारतीय भारोतोलक मीराबाई चानू के महिलाओं के 49 किलोग्राम भर वर्ग में टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने की पुष्टि कर दी है। चानू ने अप्रैल में ताशकंद में एशियाई चैंपियनशिप में क्लीन एंड जर्क में विश्व रिकॉर्ड के साथ कांस्य पदक जीतकर टोक्यो ओलंपिक में अपना स्थान सुरक्षित किया था, जिसकी अब आधिकारिक पुष्टि हो गई है। चानू ने आइ डब्ल्यू यू एस की रैंकिंग सूची के आधार पर कोटा हासिल किया। वह भारोत्तोलन 49 किलोग्राम वर्ग में दूसरे स्थान पर हैं। 

मणिपुर की इस 26 साल की खिलाड़ी ने आईडब्ल्यूएफ की रैंकिंग सूची के आधार पर कोटा हासिल किया। यह भारतीय भारोत्तोलक 49 किलोग्राम वर्ग में 4133,6172 अंक के साथ दूसरे स्थान पर काबिज है। भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने उन्हें टैग करते हुए ट्वीट किया, ‘टॉप्स ऐथलीट भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने आईडब्ल्यूएफनेट रैंकिंग में 49 किलोग्राम भार वर्ग में दूसरे स्थान पर आने के बाद तोक्यो 2020 का क्वॉलिफिकेशन हासिल किया।’


चानू रैंकिंग में पहले चौथे स्थान पर थी लेकिन उत्तर कोरिया के ओलिंपिक से हटने से वह दूसरे स्थान पर पहुंच गयी। रियो में निराशाजनक प्रदर्शन के पांच साल बाद ओलिंपिक में चानू की यह दूसरी उपस्थिति होगी। रियो ओलिंपिक 2016 में वह क्लीन एंव जर्क में किसी भी भार को उठाने में विफल रही और प्रतियोगिता से बाहर हो गयी थी।