चुनाव आयोग (Election Commission) ने उत्तर प्रदेश, पंजाब, गोवा, मणिपुर और उत्तराखंड में होने वाले विधानसभा चुनावों (Assembly Election) की तारीखों की घोषणा शनिवार को कर दी है। लेकिन क्या आपको पता है गोवा और मणिपुर में कांग्रेस के साथ खेल हो गया था। जी हां, सबसे ज्यादा सीटें जीतने के बाद भी कांग्रेस सरकार नहीं बना पाई थी। बीजेपी ने दोनों राज्यों में सरकार बना ली थी। दोनों ही राज्यों में बीजेपी सरकार ने पांच साल भी पूरे किए हैं। 

पिछले चुनाव में गोवा की 40 विधानसभा सीटों में बीजेपी को 13, कांग्रेस को 17, एनसीपी को एक, अन्य को 9 सीटें मिली थी। वहीं मणिपुर के 60 विधानसभा सीटों में से भाजपा को 21, कांग्रेस को 28, एनपीएफ और एनपीपी को 4-4 और अन्य को तीन सीटें मिली थी।

बता दें कि इस बार कोविड के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की वजह सभी सुरक्षा इंतजाम किए जाएंगे। इस बार पोलिंग बूथ पर थर्मल स्कैनिंग, मास्क, सैनिटाइजर की व्यवस्था होगी। इस बार कोविड को देखते हुए 16 फीसदी पोलिंग स्टेशन का इजाफा किया गया है।

7 चरणों में होंगे चुनाव

पांचों राज्यों में विधानसभा चुनाव 7 चरणों में होंगे। जिसमें पहले फेज के लिए 10 फरवरी, दूसरे फेज के लिए 14 फरवरी, तीसरे फेज के लिए 20 फरवरी, चौथे फेज के लिए 23 फरवरी, पांचवे फेज के लिए 27 फरवरी, छठे फेज के लिए 03 मार्च और सातवें फेज के लिए 07 मार्च को वोटिंग होगी। वहीं चुनाव परिणाम 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे। गोवा के चुनाव एक चरण में 14 फरवरी को होंगे वहीं मणिपुर के चुनाव दो चरणों में संपन्न होंगे। मणिपर में पहले चरण के लिए 27 फरवरी को वहीं दूसरे चरण का चुनाव 03 मार्च को होंगे। बता दें 2012 में कुल नौ , 2017 में आठ और इस बार कुल सात चरणों में चुनाव हो रहे हैं।

नहीं होंगे किसी प्रकार की रैली

बता दें कि इस बार किसी भी राजनीतिक दल या नेता को किसी प्रकार की पब्लिक रैली करने की इजाजत नहीं होगी। ये पहला ऐसा चुनाव होगा जिसमें रैली की इजाजत नहीं दी जा रही है।