इंफाल। मणिपुर में विधानसभा चुनाव (Manipur assembly election) के पहले चरण के लिए 28 फरवरी को मतदान होगा और इस चरण में करीब 21 प्रतिशत उम्मीदवार आपराधिक पृष्ठभूमि के हैं। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स (ADR) की ओर से शुक्रवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक पहले चरण के लिए 173 उम्मीदवारों की ओर से हलफानामा दायर किया गया है, जिनमें से 37 (21 प्रतिशत) उम्मीदवार को अपने ऊपर आपराधिक मामला दर्ज होने की जानकारी दी है। 

इनमें से 27 (16) प्रतिशत उम्मीदवारों ने गंभीर आपराधिक मामले दर्ज होने की जानकारी दी है। जिन उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं, उनमें से सबसे ज्यादा 11 (29) प्रतिशत भारतीय जनता पार्टी (BJP) के हैं। 

वहीं जनता दल (यू) (JDU) के 28 उम्मीदवारों से सात (25 प्रतिशत), कांग्रेस (Congress) के 35 उम्मीदवारों से आठ (23 प्रतिशत), नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) के 27 उम्मीदवारों में से तीन (11 प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज किये गये। पहले चरण के 173 उम्मीदवारों में से, 91 (53 प्रतिशत) करोड़पति हैं। प्रमुख दलों में एनपीपी के 27 उम्मीदवारों में से 21 (78 प्रतिशत), भाजपा के 38 उम्मीदवारों में से 27 (71 प्रतिशत), करोड़पति हैं। 

कांग्रेस के 35 उम्मीदवारों में से 18 (51 प्रतिशत) तथा जद (यू) के 28 उम्मीदवारों ने अपनी सम्पति एक करोड़ से अधिक घोषित की है। उल्लेखनीय है कि मणिपुर में 28 फरवरी तथा पांच मार्च को दो चरणों में मतदान होगा।