मणिपुर में चुनावी अभियान के तहत अब तक कुल 100 करोड़ की नकदी और प्रतिबंधित वस्तुएं जब्त की जा चुकी हैं। मुख्य चुनाव अधिकारी राजेश अग्रवाल ने गुरुवार को यहां मीडिया से बात करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इसमें 84.7 करोड़ ड्रग्स/अफीम और 1.47 करोड़ नकद (आयकर विभाग द्वारा) शामिल हैं। 

उन्होंने कहा कि 2017 के विधानसभा चुनावों में 59.76 प्रतिशत के मुकाबले लगभग 80.53 प्रतिशत (18,039) हथियार जमा किए गए हैं। एनडीपीएस के 60 मामलों सहित कुल 328 प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। मुख्य चुनाव अधिकारी ने बताया कि मणिपुर में कुल 600 महिला मतदान केंद्र स्थापित किए जाएंगे, यानी प्रत्येक पांच मतदान केंद्रों में से एक महिला मतदान कर्मियों द्वारा संचालित किया जाएगा। भारत में पहली बार 20 प्रतिशत से ज्यादा महिला मतदान केंद्र स्थापित हुए हैं। 

उन्होंने कहा कि निरंतर आंकड़ों के नवीनिकरण के दौरान मतदाता सूची में कुल 13,203 मतदाता जोड़े गए हैं। अब आगामी चुनावों के लिए अंतिम मतदाता सूची में कुल मतदाता 20,48,169 हो गए हैं। मणिपुर में दो चरणों में होने वाले चुनाव में पहले चरण में 15 महिलाएं और दूसरे चरण में दो महिलाओं समेत 92 उम्मीदवार शामिल हैं। श्री अग्रवाल ने बताया कि 265 उम्मीदवारों में से कुल 56 उम्मीदवारों का आपराधिक इतिहास रहा है।