पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर के रहने वाले दौलस लेम्बामायूम (Daulas Lambamayum) को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (Prime Minister's National Children's Award) से सम्मानित किया गया है। वे भी उन 29 बच्चों में शामिल जिन्हें ये पुरस्कार मिला है। वे सभी 29 बच्चों के साथ गणतंत्र दिवस परेड (republic day parade) में शामिल होंगे। बता दें कि देश के इन 29 बच्चों ने अलग अलग क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार पर बधाई दी है। उन्होंने ट्वीट किया, युवा दौलस लेम्बामायूम ने अपनी पेंटिंग और फोटोग्राफी कौशल से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया है! उनके काम को कई प्रदर्शनियों में प्रदर्शित किया गया है। दौलस को राष्ट्रीय बाल पुरस्कार जीतने पर बधाई। भविष्य के लिए शुभकामनाएँ।

इसके साथ ही मणिपुर के मुख्यमंत्री ने भी प्रधानमंत्री मोदी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा, राष्ट्रीय बाल पुरस्कार जीतने पर दौलस लेम्बामायूम को बधाई। पेंटिंग और फोटोग्राफी के क्षेत्र में आपका काम वास्तव में असाधारण है। हमें आपकी उपलब्धि पर बहुत गर्व है। आपके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं।

बता दें कि मास्टर दौलस लेम्बामायूम (Daulas Lambamayum) का जन्म 28 नवंबर 2007 को हुआ था। जिन्होंने पेंटिंग और फोटोग्राफी (Painting and photography) के क्षेत्र में अपना कौशल दिखाया है और इस क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है।

बता दें कि उनके काम को विभिन्न अवसरों पर आयोजित विभिन्न प्रदर्शनियों और प्रतियोगिताओं में प्रशंसा मिली है। 

मास्टर दौलस लेम्बामायूम को उनके इसी हुनर के लिए कला और संस्कृति (Art & Culture) के क्षेत्र में उत्कृष्टता के लिए प्रधान मंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार, 2022 (Prime Minister's National Children's Award, 2022) से सम्मानित किया गया है।

गौर हो कि इन बच्चों में 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 15 लड़के और 14 लड़कियां शामिल हैं। बाल पुरस्कार के विजेता हर साल गणतंत्र दिवस परेड में भी हिस्सा लेते हैं। सभी बाल पुरस्कार विजेता को एक पदक, 1 लाख रुपए नकद और प्रमाण पत्र दिया जाएगा।