कांग्रेस पार्टी के 12 मौजूदा विधायकों में से नंबोल निर्वाचन क्षेत्र के MPCC अध्यक्ष एन लोकेन और नुंगबा निर्वाचन क्षेत्र के CWC सदस्य गायखंगम सहित छह विधायक भाजपा उम्मीदवारों से हार गए। कांग्रेस के बाकी चार उम्मीदवार पटसोई एसी के एके मीराबाई, MPCC के पूर्व अध्यक्ष साईकोट एसी के टीएन हाओकिप, उखरूल के अल्फ्रेड के आर्थर और वबागई एसी के मोहम्मद फजूर रहीम हैं।

इस बीच, पूर्व मुख्यमंत्री O Ibobi ने भाजपा पर मतदाताओं को लुभाने और डराने के लिए धन और बाहुबल का इस्तेमाल कर स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव में बाधा डालने का आरोप लगाया है।


यह भी पढ़ें- Manipur Assembly Election 2022 में भाजपा ने कर दिया कांग्रेस का सूपड़ा साफ, इससे बेहतर छोटी छोटी पार्टियों ने मार ली बाजी

आरोप लगाते हुए इबोबी ने कहा कि "बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या की है," इबोबी ने थौबल डीसी कार्यालय परिसर में आरओ, थौबल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के कार्यालय से चुनावी जीत प्रमाण पत्र लेने के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा। 15,085 वोटों के साथ, इबोबी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को हराया और भाजपा प्रत्याशी लीतन्थेम बसंता को 12,002 वोट मिले है।



यह भी पढ़ें- भाजपा उम्मीदवार और IAS ऑफिसर डिंगांगलुंग गंगमेई से हारे कांग्रेस नेता गैखंगम गंगमेई


पूर्व मुख्यमंत्री O Ibobi ने कहा कि "चुनाव का नतीजा जनता का फैसला है और इसका सम्मान किया जाना चाहिए, लेकिन साथ ही जनता को चुनाव पूर्व हिंसा और स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव में व्यवधान की कई रिपोर्टों को याद रखना चाहिए।"