नई दिल्ली/इंफाल। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Congress General Secretary Priyanka Gandhi Vadra) ने मंगलवार को मणिपुर में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर राज्य के ज्वलंत मुद्दों को सुलझाने में विफल रहने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस सत्ता में आयी तो इसे ठीक कर दिया जायेगा। वाड्रा ने वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'मणिपुर की जनता मुद्रास्फीति, बेरोजगारी, स्वास्थ्य और शिक्षा सेवाओं की कमी तथा महिलाओं के खिलाफ अपराध जैसी समस्याओं से जूझ रही है लेकिन राज्य की मौजूदा भाजपा सरकार इसे हल नहीं करना चाहती है। उनकी (भाजपा) एकमात्र इच्छा किसी भी तरह से सत्ता में आना और सत्ता में बने रहना है और इस तरह की मानसिकता से राज्य का विकास नहीं हो सकता।' 

उन्होंने कहा कि मणिपुर में एक ऐसी सरकार की जरूरत है जो राज्य के विकास के लिए काम करे और लोगों की समस्याओं का समाधान करे। उन्होंने कहा कि मणिपुर में भाजपा सरकार के गठन की शुरुआत ही एक'अलोकतांत्रिक' व्यवहार और प्रक्रिया के तहत हुई थी। इसने 2017 के जनादेश का लगातार अपमान किया है जिसका परिणाम भ्रष्टाचार के रूप में सामने है। इस सरकार ने राज्य में शांति कायम की है और न ही रोजगार के अवसर पैदा किये हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस एक ऐसी सरकार देने के लिए प्रतिबद्ध है, जिसका प्राथमिक ध्यान विकास और राज्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने पर होगा। 

महिला सशक्तिकरण के संदर्भ में उन्होंने कहा कि राज्य में एक ऐसी सरकार की आवश्यकता है जो महिलाओं की समानता को मान्यता दे। कांग्रेस महिलाओं को समान मानती है। भाजपा की विचारधारा कभी भी महिलाओं को समान नहीं मान सकती। उन्होंने कहा, 'मणिपुर में'पर्यटन' पर जोर दिया जाना चाहिए। यह क्षेत्र रोजगार के बड़े अवसर पैदा कर सकता है। हम राज्य में रोजगार के अवसर पैदा करने पर ध्यान केंद्रित करेंगे।' उल्लेखनीय है कि मणिपुर में विधानसभा चुनाव 28 फरवरी और पांच मार्च को होंगे।