इंफाल: मणिपुर के राज्यपाल ला गणेशन ने बुधवार को कहा कि पूर्वोत्तर की खेल क्षमता बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि खेलों की महाशक्ति होने के नाते मणिपुर खेलों के मामले में पूर्वोत्तर में अग्रणी है।

मणिपुर के राज्यपाल ने इंफाल के खुमान लंपक हॉकी स्टेडियम में एफआईएच ओडिशा हॉकी मेन्स वर्ल्ड कप ट्रॉफी 2023 के स्वागत समारोह में बोलते हुए यह बयान दिया। गणेशन ने कहा कि मणिपुर को भारत में खेलों के 'पावरहाउस' के रूप में जाना जाता है।

यह भी पढ़े : Today's Numerology Horoscope  : 08 का अंक धैर्य,आत्मबल, धन,वैभव का प्रतीक, इन मूलांक वालों की खराब रहेगी सेहत 


गणेशन ने कहा कि हालांकि मणिपुर आकार में छोटा है लेकिन यह लगभग सभी खेल विधाओं में ओलंपियन तैयार कर रहा है। गौरतलब है कि 2023 एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप की ट्रॉफी बुधवार (7 दिसंबर) को मणिपुर के इंफाल पहुंची।

हॉकी विश्व कप ट्रॉफी 13 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश का दौरा करने वाले ट्रॉफी दौरे के हिस्से के रूप में मणिपुर के इंफाल में सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए पहुंची। मणिपुर राज्य के खेल मंत्री गोविंददास कोंथौजम और मणिपुर हॉकी बोर्ड के अधिकारी बुधवार को इंफाल में विश्व कप ट्रॉफी लेकर आए।

यह भी पढ़े : Horoscope 08 December : आज कर्क,मेष व कन्या राशि वालों को सबसे ज्यादा लाभ मिलेगा, देखें पूरा राशिफल


गुरुवार (8 दिसंबर) को हॉकी वर्ल्ड कप की ट्रॉफी असम के गुवाहाटी पहुंचेगी।  विशेष रूप से असम में गुवाहाटी और मणिपुर में इंफाल पूरे पूर्वोत्तर में केवल दो शहर हैं, जहां ट्रॉफी को एक दिन के लिए रखा जाएगा।