मणिपुर में चुनावी रैलियां ताबड़तोड़ चल रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मणिपुर में सियासी महौल गर्म कर रहे है। इसी बीच रिहायशी इलाकों में चुनाव संबंधी हिंसा की निंदा करते हुए, इंफाल पूर्व के उचोल गांव के स्थानीय लोगों ने अपने-अपने इलाकों में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया।


यह भी पढ़ें- पीएम मोदी को इंफाल में उतरते ही मणिपुर कांग्रेस हुई सक्रिय, जोड़ तोड़ लगाना किया शुरू

इंफाल पूर्वी जिले के उचचोल गांव में स्थित एक मोहम्मद सिकंदर और एल रोमेन के आवास पर कुछ अज्ञात बदमाशों ने कथित तौर पर कई राउंड फायरिंग की। घटना के दौरान, कुछ घरेलू संपत्तियों को कथित तौर पर क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। सूत्रों ने कहा कि सिकंदर और रोमेन NPP उम्मीदवार लौरेम्बम संजय के समर्थक हैं।

यह भी पढ़ें- Modi Manipur Shah: मोदी शाह की जोड़ी मणिपुर में मचाएगी धमाल, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज करेंगे सार्वजनिक रैली


प्रदर्शनकारियों में से एक ने मीडिया को बताया कि हथियारबंद बदमाश आए और रात में गोलियां चला दीं। उन्होंने सवाल किया कि अगर फायरिंग में कोई घायल हुआ तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा, उन्होंने कहा कि Andro assembly क्षेत्र में लोगों को हिंसा के बजाय शांति, स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव की जरूरत है। यह कहते हुए कि हिंसा से लोगों में केवल दुश्मनी आएगी, उन्होंने सभी से भविष्य में इस तरह की घटना को न दोहराने की अपील की।
पिछले यारीपोक तुलिहाल, यारीपोक याम्बेम और यारीपोक टॉप चिंगथा में भी मतदान संबंधी हिंसा की सूचना मिली थी। हालांकि, कोई अप्रिय घटना नहीं हुई।