भारतीय राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के लिए कुल 10 महिला फुटबॉलरों का चयन किया गया है। अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (AFC) ने वरिष्ठ महिला राष्ट्रीय कोचिंग शिविर की अंतिम तैयारी में भाग लेने के लिए मणिपुर की 10 लड़कियों का चयन किया है। शिविर से, महिला फुटबॉलरों को आगामी एएफसी महिला एशियाई कप 2022 में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना जाएगा। सीनियर महिला राष्ट्रीय कोचिंग कैंप 16 अगस्त 2021 से जमशेदपुर में आयोजित किया जाएगा।

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने राज्य की महिला फुटबॉलरों को बधाई दी है, जिन्हें अंतिम कोचिंग शिविर के लिए चुना गया है। AFC ने कहा कि “हमारी लड़कियों के लिए गर्व का क्षण है क्योंकि एआईएफएफ ने सीनियर महिला राष्ट्रीय कोचिंग शिविर के लिए अंतिम सूची में 10 मणिपुरी खिलाड़ियों को शामिल किया है। आगामी एएफसी महिला एशियाई कप 2022 की तैयारी के लिए 16 अगस्त से जमशेदपुर में आयोजित किया गया। सभी प्रतिभागियों को मेरी शुभकामनाएं।'

सीनियर महिला टीम की कमान संभालने के बाद मुख्य कोच थॉमस डेननरबी ने 30 संभावितों की सूची बनाई है, जो जमशेदपुर में शिविर में शामिल होंगे। डेनरबी द्वारा नामित 30 खिलाड़ियों के अलावा, बाला देवी, जो वर्तमान में पुनर्वास के अधीन हैं, अपनी चिकित्सा स्थिति का आकलन करने के लिए शिविर में शामिल होंगी।


30 खिलाड़ियों की सूची इस प्रकार है-

गोलकीपर: अदिति चौहान, सौम्या नारायणसामी, एम लिनथोइंगंबी देवी, श्रेया हुड्डा।

डिफेंडर्स- जबामनी टुडू, आशालता देवी, स्वीटी देवी, हेमम शिल्की देवी, मिशेल कास्टान्हा, रितु रानी, रंजना चानू सोरोखैबम, डब्ल्यू लिनथोइंगंबी देवी, कृतिना देवी थौनाओजम, अंजू तमांग, असीम रोजा देवी।

मिडफील्डर- इंदुमति कथिरेसन, संगीता बसफोर, मार्टिना थोकचोम, डांगमेई ग्रेस, सौम्या गुगुलोथ, सुमित्रा कामराज, मरियममल बालमुरुगन, संजू, मनीषा। फॉरवर्ड: रेणु, करिश्मा शिरवोइकर, संध्या रंगनाथन, सुमति कुमारी, दया देवी, प्यारी ज़ाक्सा।