पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्यक्ष JP Nadda ने चुनावों में बड़ी जीत का ऐलान हुए लोक्खो सोनार बांग्ला अभियान लॉन्च किया है। राज्य में भाजपा हर तबके के बीच पैठ बनाने में जुटी है जिनमें बुद्धिजीवियों से लेकर मजदूर तक शामिल है। आज पश्चिम बंगाल के एक दिवसीय दौरे पर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कोलकाता में 'लोक्खो सोनार बांग्ला' अभियान की शुरुआत की है। इसके बाद वे एक जूट मिल मजदूर के घर लंच करेंगे और बुद्धिजीवियों से संवाद भी करेंगे।

मिशन बंगाल पर पहुंचे बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल का गौरवमयी स्वर्णिम इतिहास रहा है। जितने बंगाल के दिग्गज हुए उन सभी के विचारों का समावेश करना है। सोनार बांग्ला के जरिए हमारी कोशिश है, बंगाल की जनता की आशाओं और आकांक्षाओं का समावेश किया जाए। उनके विचारों को लेकर आगे चला जाए। इस सिलसिले में हम 2 करोड़ से ज्यादा सुझाव लेंगे और इसके लिए हर विधान सभा क्षेत्र में 100 पेटियां भेजेंगे। 50 पेटियां प्रमुख जगहों पर रखी जाएंगी। नड्डा ने कहा कि बीजेपी सोनार बांग्ला के सपने को साकार करने के लिए लोगों से सुझाव के लिए एक नंबर जारी कर रही है। इस पर मिस्ड कॉल दें या वाट्सएप पर सुझाव दिया जा सकेगा. 3 मार्च से 20 मार्च तक ये कैम्पेन चलेगा।

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल में असल परिवर्तन लाने की योजना है। राज्य में आयुष्मान भारत स्कीम लागू की जाएगी। किसान सम्मान निधि से वंचित बंगाल के किसान को हम पिछली किश्तें भी देंगे और स्कीम से जोड़ेंगे। इस योजना के तहत प्रत्येक किसान को 14 हजार रुपये प्राप्त होंगे। भ्रष्टाचार खत्म करने की बात कहते हुए उन्होंने कहा कि बंगाल में NO CUT MONEY यानी भ्रष्टाचार मुक्त समाज हम बनाएंगे। नक्सलवाद को समाप्त करने के पूरे प्रयास किए जाएंगे। गैरकानूनी खदान गिरोह व्यवस्था समाप्त की जाएगी। बंगाल के हुनर को बाजार देने के लिए ग्लोबल मार्केटिंग करेंगे।

दरअसल, बंगाल हमेशा से बौद्धिक विमर्श का गढ़ रहा है। जेपी नड्डा ने पिछले दौरे के दौरान कहा था कि बंगाल जो आज सोचता है, पूरा देश उसे कल सोचता है। अध्यक्ष जेपी नड्डा आज देर शाम सात बजकर 10 मिनट पर सायंस सिटी, कोलकाता में 'लोक्खो सोनार बांग्ला' बुद्धिजीवी वर्ग की बैठक को भी संबोधित करेंगे। इस दौरान वह पश्चिम बंगाल के मानिंद बुद्धिजीवियों से राज्य की दशा और दिशा पर चर्चा करेंगे। माना जा रहा है कि चुनावों में बुद्धिजीवी ओपिनियन मेकर्स की भूमिका निभाते हैं। ऐसे में बुद्धिजीवियों को साधने की दिशा में भाजपा इस तरह के कार्यक्रम कर रही है।