दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में एकबार फिर हिंसा (Violence) हुई है। वाम गठबंधन आल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन (AISA), स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के सदस्यों के बीच यह झड़प हुई है। इस झगड़े में 12 से अधिक छात्र घायल हुए हैं। घायल छात्रों में से 3 की हालत बेहद गंभीर है। छात्रसंघ के सदस्यों के अनुसार इस झड़प में गंभीर रूप से घायल छात्रों को नई दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती कराया गया है।

खबर है कि दिल्ली में जेएनयू के अंदर रविवार की शाम छात्रों के दो गुटों में बहस और धक्का-मुक्की हुई है। अभी तक की जानकारी के मुताबिक अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और लेफ्ट समर्थित छात्रों के बीच किसी बात को लेकर बहस हुई थी, जिसके बाद झगड़ा इतना बढ़ गया कि हाथापाई तक नौबत आ गई। पुलिस को दी शिकायत में दोनों ही गुटों के छात्रों ने एक दूसरे पर मारपीट का आरोप लगाया है।

डीसीपी साउथ वेस्ट गौरव शर्मा ने कहा कि रविवार को थाना वसंत कुंज नार्थ में नारेबाजी और झगड़े की आशंका की सूचना मिली थी। पुलिस ने तुरंत कॉल का जवाब दिया। हालांकि मौके पर किसी तरह का झगड़ा नहीं हुआ। पूछताछ करने पर पता चला कि छात्र संघ हॉल में मीटिंग आयोजित करने को लेकर छात्रों के दो गुटों में तीखी नोकझोंक हुई।

जेएनयूएसयू की तरफ से अभी तक कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। जबकि, एबीवीपी से जुड़े छात्रों ने थाने में जाकर लिखित शिकायत दी है। साथ ही लेफ्ट से जुड़े एक छात्र ने भी शिकायत दी है। दोनों पक्ष एक-दूसरे पर बैठक में खलल डालने और दूसरे पक्ष से मारपीट करने का आरोप लगा रहे हैं। इसके अलावा, जांच जारी है और तदनुसार कानूनी कार्रवाई की जाएगी।