बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली तबीयत एकबार फिर से बिगड़ गई है जिसके चलते उन्हें अपोला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  इससे पहले बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली का कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में एंजियोप्लास्टी किया गया था। अब उनकी तबीयत एक बार फिर बिगड़ने पर वुडलैंड्स अस्पताल की डॉक्टर रूपाली बसु ने कहा कि दादा सौरव गांगुली को धमनियों में रुकावटों के लिए परीक्षण करवाना है।

बता दें कि 7 जनवरी को सौरव गांगुली को वुडलैंड्स अस्पताल से छुट्टी मिली थी। 2 जनवरी को सौरव गांगुली की तबीयत अचानक बिगड़ गई। इसके बाद उन्हें कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में भर्ती कराया गया। 48 वर्षीय सौरव गांगुली की एंजियोप्लास्टी की गई। गांगुली की एंजियोप्लास्टी की गई जिसके बाद दिल की नसों में स्टेंट डाला गया।

बता दें कि सौरव गांगुली की एक धमनी में एंजियोप्लास्टी हुई थी लेकिन इसके अलावा गांगुली की दिल की नसों में दो और रुकावटें हैं। डॉक्टरों ने उन्हें नियमित रूप से चेकअप कराने की सलाह दी थी।

इससे पहले कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में सौरव गांगुली का इलाज करने वाले डॉ. आफताब खान ने बताया था कि सौरव गांगुली के हार्ट में दो ब्लॉकेज थे। वुडलैंड्स अस्पताल की सीईओ डॉ. रूपाली बसु और डॉ. सरोज मंडल ने बताया था कि उनके हार्ट में कई ब्लॉकेज थे जो क्रिटिकल थे।