26 जनवरी पर तिरंगे के अपमान के बाद आज मन की बात में पीएम मोदी ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि इससे पूरा देश दुखी है। आज अपनी पहली मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया। 73वें मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने गणतंत्र दिवस के मौके किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा का जिक्र किया और कहा कि 26 जनवरी पर तिरंगे के अपमान से देश दुखी है।
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब मैं मन की बात करता हूं तो ऐसा लगता है जैसे आपके बीच, आपके परिवार के सदस्य के रूप में उपस्थित हूं। हमारी छोटी-छोटी बातें, जो एक-दूसरे को, कुछ सिखा जाए, जीवन के खट्टे-मीठे अनुभव जो जीभर के जीने की प्रेरणा बन जाए। बस यही तो है मन की बात।

पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्र ने असाधारण कार्य कर रहे लोगों को उनकी उपलब्धियां और मानवता के प्रति उनके योगदान के लिए सम्मानित किया। इस साल भी पुरस्कार पाने वालों में वे लोग शामिल हैंए जिन्होंने अलग.अलग क्षेत्रों में बेहतरीन काम किया है। उन्होंने आगे कहा कि इन सबके बीच दिल्ली में 26 जनवरी को तिरंगे का अपमान देख देश बहुत दुखी भी हुआ। हमें आने वाले समय को नई आशा और नवीनता से भरना हैण् हमने पिछले साल असाधारण संयम और साहस का परिचय दिया। इस साल भी हमें कड़ी मेहनत करके अपने संकल्पों को सिद्ध करना है।