पंजाब की लुधियाना कोर्ट की दूसरी मंजिल पर बने टॉयलेट में हुए धमाके को लेकर अहम जानकारी सामने आई है। मौके से जांच एजेंसियों को हाई ग्रेड एक्सप्लोसिव मिला है। वहीं, जिस युवक पर इस धमाके को करने का शक है, उसके शव पर पहचान के नाम पर सिर्फ एक टैटू मिला है।

सूत्रों के अनुसार फॉरेंसिंक और बॉम्ब डिस्पोजल स्क्वाड टीम को शुरुआती जांच में पता चला है कि इस धमाके में हाई ग्रेड एक्सप्लोसिव का इस्तेमाल हुआ है। हाई ग्रेड एक्सप्लोसिव आमतौर पर PETN या RDX होता है। हालांकि, अभी तक ये नहीं पता चला है कि ये PETN है या RDX। सूत्रों का कहना है कि मौके से मिले बम की जांच की जा रही है, जिसके बाद ही इस बारे में कुछ कहा जा सकता है।

लुधियाना कोर्ट परिसर में गुरुवार को हुए धमाके में एक की मौत हो गई थी। अंदेशा है कि जिस शख्स की मौत हुई है, उसी ने बम धमाका किया होगा। धमाके के बाद मौके पर पहुंची NSG की टीम को टॉयलेट से क्षत-विक्षत हालत में एक शव मिला है, जिसे इस धमाके का जिम्मेदार माना जा रहा है. उस शव को टॉयलेट से निकाल लिया गया है। हालांकि, शव की पहचान के नाम पर हाथ पर एक धार्मिक चिन्ह का एक टैटू मिला है। कुछ मोबाइल के टुकड़े भी मिले हैं, जिसे फॉरेंसिंक लैब भेजा गया है.। ऐसे में ये सवाल उठता है कि इस धमाके को करने वाला कौन था, इसका पता कैसे चलेगा।